जागरण संवाददाता, सोनभद्र: जिले की एकमात्र नगर पालिका राब‌र्ट्सगंज में बढ़ौली चौराहा से चंडी तिराहा तक सड़क के चौड़ीकरण की अफवाह को लेकर नगर के लोगों में अफरातफरी मच गई है। लोग इस बात को लेकर चितित हैं कि यदि सड़क चौड़ीकरण हुआ तो उनका मकान और दुकान भी उसकी चपेट में आ सकता है। इस संबंध में लोक निर्माण विभाग के प्रांतीय खंड के अधिशासी अभियंता चंद्रप्रकाश ने बताया कि इस मार्ग के चौड़ीकरण का जब कोई प्रस्ताव ही शासन को नहीं भेजा गया है तो फिर उसके चौड़ीकरण कराने का कोई सवाल ही नहीं उठता। उनका कहना है इस तरह की अफवाह उड़ी है कि सड़क का चौड़ीकरण होगा और दुकानें टूटेंगी। लेकिन ऐसा कुछ भी नहीं होने जा रहा है।

राब‌र्ट्सगंज में बढ़ौली से चंडी तिराहा और घोरावल से खलियारी तक सड़कों के चौड़ीकरण का मामला करीब एक साल पूर्व सामने आया था। तब खलियारी से घोरावल मार्ग पर राब‌र्ट्सगंज बाजार में चौड़ीकरण के लिए निशान भी लगा था, जिसमें कई लोगों के मकान के साथ ही कई व्यापारियों की दुकान भी जद में आ रही थी। इसको लेकर तब व्यापारियों के साथ ही विभिन्न संगठनों ने विरोध भी शुरू किया था। लोगों ने कई दिनों तक धरना प्रदर्शन किया था। बाद में यह मामला ठंडे बस्ते में चला गया था। अब एक बार फिर बढ़ौली चौराहा से चंडी तिराहा तक सड़क के चौड़ीकरण की अफवाह उड़ी है। कुछ लोगों का कहना है कि माइक से इसको लेकर एनाउंस हो रहा था। नगर के लोगों का कहना है कि यदि बाजार की सड़क का चौड़ीकरण हुआ तो तमाम लोग प्रभावित होंगे। नगर के प्रकाश केशरी, नियमातुल्ला, विनोद, सुरेश आदि का कहना है कि सड़क के चौड़ीकरण से काफी क्षति होगी, लेकिन उन्हें चौड़ीकरण की कोई सूचना अधिकृत रूप से नहीं है। बता दें कि पूर्व में खलियारी से घोरावल मार्ग के चौड़ीकरण का मुद्दा उठा था लेकिन बाद में वह ठंडे बस्ते में चला गया। उधर लोक निर्माण विभाग के अधिशासी अभियंता चंद्रप्रकाश का कहना है कि सड़क के चौड़ीकरण का न तो कोई प्रस्ताव यहां से गया है और न ही शासन से इसको लेकर कोई आदेश प्राप्त हुआ है। यह महज अफवाह है।

Edited By: Jagran