जागरण संवाददाता, सोनभद्र : नगर पंचायत घोरावल के पांच कर्मी व एक ठेकेदार सहित सात लोगों के कोरोना पाजिटिव मिलने से हड़कंप मच गया है। घोरावल नगर निकाय के एक सेवानिवृत्त कर्मी जो संविदा पर कार्यरत हैं, कोरोना पाजिटिव मिले थे। कोरोना पाजिटिव मिलने के बाद नगर पंचायत कार्यालय के अलावा उनके गांव के निवास क्षेत्र को सील कर दिया गया है। पुलिस लाइन व गुरमा पुलिस चौकी में तैनात दो कांस्टेबल भी कोरोना पाजिटिव मिले हैं। जिले में कोरोना संक्रमितों की संख्या में लगातार इजाफा होने से लोगों के माथे पर बल पड़ गया है।

नगर पंचायत घोरावल के अध्यक्ष समेत लगभग 30 कर्मियों का स्वैब जांच के लिए 29 जून को जांच के लिए भेजा गया था। नगर पंचायत के एक सेवानिवृत्त कर्मी के कोरोना पाजिटिव आने पर सभी का स्वैब लिया गया था। शुक्रवार को पांच लोगों को छोड़़ अन्य सभी की कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आई थी। शनिवार को पांच कर्मियों की रिपोर्ट पाजिटिव आने पर हड़कंप मच गया। जो पांच कर्मी संक्रमित मिले हैं उसमें दो संविदा कंप्यूटर आपरेटर, एक जलकल प्रभारी व एक ठेकेदार शामिल हैं। ठेकेदार घोरावल के एक इंटर कॉलेज में शिक्षण का भी कार्य करते हैं। माना जा रहा है कि पूर्व में कोरोना पाजिटिव मिले सेवानिवृत्त कर्मी के संपर्क में आने से अन्य कर्मी व ठेकेदार संक्रमित हुए हैं। संक्रमित रिपोर्ट आने के बाद नगर पंचायत कार्यालय को 48 घंटे के लिए सील कर दिया गया है। इसके अलावा इन कर्मियों के मूल निवासी घोरावल नगर पंचायत का वार्ड एक, सामुदायिक भवन अस्पताल वार्ड दो, घोरावल कोतवाली के धनौरा. जांगर व मझगांव की उस बस्ती को सील किया गया जहां के संक्रमित रहने वाले हैं। इसके अलावा पुलिस लाइन के बैरक नंबर पांच में रह रहे 27 वर्षीय कांस्टेबल व गुरमा पुलिस चौकी में तैनात 34 वर्षीय कांस्टेबल कोरोना पाजिटिव मिले हैं। गुरमा पुलिस चौकी का एक कांस्टेबल पहले ही कोरोना संक्रमित मिला था। चिकित्सकों का कहना है कि पूर्व में मिले कोरोना पाजिटिव के संपर्क में आने से यह कांस्टेबल संक्रमित हो गया है। सभी को उपचार के लिए मधुपुर कोरोना वार्ड में भर्ती कराया गया है। मुख्य चिकित्साधिकारी डा. एसके उपाध्याय ने पांच लोगों के कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि करते हुए बताया कि जिले में कोरोना पाजिटिव की संख्या 50 हो गई है। स्वास्थ्य कर्मी मिला पाजिटिव

सोनभद्र : जिला अस्पताल के पैथालाजी में तैनात एक और कर्मचारी के कोरोना पाजिटिव मिलने से लोगों के माथे पर चिता की लकीरे खींच गई है। इस अस्पताल के लैब टेक्निशियन व उसकी पत्नी पहले ही ट्रू नाट मशीन में कोरोना पाजिटिव मिल चुके हैं। पैथालाजी कर्मी की रिपोर्ट भी ट्रू नाट मशीन में पाजिटिव आई है। मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डा. पीबी गौतम ने बताया कि उक्त कर्मी का स्वैब भी जांच के लिए वाराणसी भेज दिया गया है।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस