जासं, शक्तिनगर (सोनभद्र) : राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ शक्तिनगर के श्रीकृष्ण शाखा का वार्षिकोत्सव रविवार की सुबह मनाया गया। मुख्य वक्ता विभाग के सह विभाग शारीरिक प्रमुख राजीव कुमार ने कहा कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की दैनन्दिन लगने वाली शाखा पर चरित्रवान, देशभक्त नागरिक तैयार किए जाते हैं। जो देश के लिए समर्पित भाव से कार्य करते हैं।

उन्होने संघ के ऐतिहासिक विकास की पृष्ठभूमि बताते हुए कहा कि स्थापना के समय संघ देश की स्वतंत्रता के लिए कार्य किया। संघ समाज में फैली कुरीतियों का निवारण कर समरस एवं संगठित समाज निर्माण के साथ देश के विकास के लिए निरंतर कार्य कर रहा है। संघ के प्रथम सर संघचालक डा. केशव राम से लेकर गुरुजी, बालासाहब देवरश, रज्जू भैया, केसी सुदर्शन एवं वर्तमान संघचालक मोहन भागवत तक के कार्यों का स्मरण कराया। कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए राजेन्द्र दुबे ने कहा कि संघ भारत को परम वैभव के शिखर पर प्रतिष्ठापित करने के लिए 95 वर्षो से अपने दैनिक शाखा के माध्यम से निरन्तर कार्य कर रहा है। भारत का सम्मान आज पूरा विश्व कर रहा है। स्वयंसेवक के अथक परिश्रम का परिणाम आज दिखाई दे रहा है। इससे पूर्व स्वयंसेवकों ने व्यायाम योग, योगासन, संचलन, सूर्यनमस्कार आदि का प्रदर्शन किया। संचालन सह नगर कार्यवाह अनिल चतुर्वेदी ने किया। इस अवसर पर सह जिला संघचालक केके पुरवार, नगर संघचालक रामराज सिंह उपस्थित रहे।

खलियारी : नगवां ब्लाक के बीआरसी कार्यालय के प्रांगण में रविवार को राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के द्वारा पथ-संचलन किया गया।

कार्यक्रम का प्रारंभ डा. केशव राव बलिराम हेडगेवार के चित्र पर माल्यार्पण कर किया गया। विभाग प्रचारक अजीत ने कहा कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की स्थापना सन 1925 को नगापुर में डा. केशव राव बलिराम हेडगेवार ने किया था। डा. हेडगेवार के उद्देश्य को शतत चलाने के लिए हम आप जैसे स्वयं सेवक तन मन धन से समर्पित है और रहेंगे। इस मौके पर नरेन्द्र, नन्दलाल, पंकज, सुनील आदि रहे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस