जागरण संवाददाता, सोनभद्र/रेणुकूट : पृथ्वी दिवस के मौके पर सोमवार को धरा को बचाने का संकल्प आयोजनों के माध्यम से लिया गया। कहा गया कि हमारा अस्तित्व तभी सुरक्षित रहेगा जब हम इस धरती को सुरक्षित व संरक्षित रखेंगे। धरती की हरियाली व पर्यावरण को सुरक्षित रखने की दिशा में निबंध, स्लोगन व चित्रकला प्रतियोगिता का आयोजन कर छात्रों ने अपनी जिम्मेदारी का अहसास कराया। इसके साथ ही सभी से अपने-अपने जन्मदिन पर एक-एक पौध लगाने की अपील की गई।

डीएवी स्कूल राब‌र्ट्सगंज में विश्व पृथ्वी दिवस के अवसर पर विभिन्न प्रतियोगिताएं कला, निबंध तथा स्लोगन आदि आयोजित की गईं। जिसमें सभी सदनों के छात्र-छात्राओं ने बढ़-चढ़कर प्रतिभाग किया। इसमें तीसरी से पांचवीं कक्षा तक कला प्रतियोगिता, छठवीं से आठवीं तक निबंध एवं नौवीं से बारहवीं तक स्लोगन प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। इसमें दयानंद सदन की अंजली जायसवाल को प्रथम, अरविदो सदन की प्रियंका को द्वितीय एवं श्रद्धानन्द सदन की गरिमा को तृतीय स्थान प्राप्त हुआ। इस अवसर पर विद्यालय के वरिष्ठ शिक्षक प्रशांत पहाड़ी ने धरा बचाओ, जीवन बचाओ स्लोगन को जीवन का ध्येय वाक्य बनाकर छात्रों को प्रेरित करते हुए कहा कि हम मनुष्य इस पृथ्वी के सबसे बुद्धिजीवी प्राणी हैं। इस धरती पर रहकर इसे हरा-भरा बनाए रखने की नैतिक जिम्मेदारी हमारी है। अत: पृथ्वी दिवस पर इस जिम्मेदारी का निर्वहन करने के लिए हमें शपथ लेना होगा। उन्होंने सभी छात्रों को शपथ दिलाते हुए अपने-अपने जन्मदिन पर एक-एक वृक्ष लगाने की अपील की।

इसी तरह हिडाल्को द्वारा संचालित आदित्य बिड़ला इंटरमीडिएट कालेज में पृथ्वी दिवस पर विद्यालय परिसर में इको क्लब द्वारा एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें विद्यालय के छात्र-छात्राओं व विद्यालय परिवार के सभी सदस्यों ने पर्यावरण संरक्षण हेतु शपथ ली। कार्यक्रम के प्रारंभ में इको क्लब प्रभारी सोमा जोशी ने पृथ्वी दिवस के विषय में जानकारी दी। इस अवसर पर वरिष्ठ शिक्षक अरविद कुमार अग्निहोत्री व छात्र तुषार विश्वकर्मा ने अपना विचार प्रस्तुत किया, साथ ही पृथ्वी दिवस से संबंधित चित्रकला प्रतियोगिता का भी आयोजन किया गया। जिसमें लगभग 200 विद्यार्थियों ने प्रतिभाग किया। प्रधानाचार्य रवींद्र सिंह चौहान ने प्रतिभागियों द्वारा बनाए गए सभी चित्रों की प्रशंसा की तथा उनका उत्साहवर्धन किया। अपने संबोधन में सभी को पर्यावरण के प्रति जागरूक रहने, उसे संरक्षित करने व पृथ्वी को सदैव हरा-भरा रखने को कहा। कार्यक्रम का संचालन कक्षा 12 की छात्रा अंजलि राय तथा धन्यवाद ज्ञापन शिक्षक ज्ञानेंद्र कुमार त्रिपाठी ने किया। जहां इको क्लब के सदस्य, शिक्षक सत्येंद्र सिंह, राजीव कुमार तिवारी, हृदय नारायण सिंह के साथ ही विद्यालय परिवार के सभी सदस्यों का सहयोग सराहनीय रहा।

Posted By: Jagran