जागरण संवाददाता, गुरमा (सोनभद्र): सदर विकास खंड के ग्राम पंचायत कुरूहुल के प्राथमिक विद्यालय बौराडीह बिजली विभाग के ठेकेदारों के कब्जे में है। यहां गत डेढ़ महीने से बिजली के उपकरण व बि¨ल्डग मैटेरियल रखा हुआ है। अब स्थिति यह है कि विद्यालय में छात्र-छात्राओं का पठन-पाठन प्रभावित हो गया है।

प्राथमिक पाठशाला की दयनीय स्थिति को देखते हुए अब ग्राम पंचायत के ग्रामीणों में आक्रोश व्याप्त हो गया है। विद्यालय के मात्र दो कमरों में शिक्षण का कार्य चल रहा है। बाकी के चार-पांच अतिरिक्त कक्षों को ठेकेदारों ने कब्जा कर लिया गया है। इसमें बिजली सामग्री जिसमें सीमेंट, ट्रांसफार्मर, गिट्टी, बालू का भंडारण कर दिया गया है। अब हालात यह है कि विद्यालय के छात्र-छात्राओं का अध्यापन प्रभावित हो रहा है। इसमें ग्राम पंचायत के लोगों में गहरा आक्रोश व्याप्त है। ग्रामीणों का कहना है गत डेढ़ महीने से चार से छह विद्यालय परिसर में ट्रैक्टरों की आवाजाही एवं मजदूरों का ठिकाना बना हुआ है। इसकी जानकारी ग्रामीणों द्वारा एमपीआरसीए अजय यादव को भी दी गई लेकिन, कोई कार्रवाई नहीं हुई। बच्चे सुबह की प्रार्थना बरामदे में कर रहे हैं। वहीं ठेकेदार का कहना है कि ग्राम प्रधान के कहने पर बिजली उपकरण व बि¨ल्डग सामग्री रखी गई है। आक्रोशित अभिभावक उदय नारायण ¨सह, कृष्ण कुमार ¨सह, तेजव्रत पांडेय, वीरेंद्र, राजकुमार, प्रदीप कुमार, दीपक कुमार सहित बड़ी संख्या में मौजूद लोगों ने जिलाधिकारी व बेसिक शिक्षा अधिकारी सोनभद्र को तत्काल कब्जे से मुक्त कराने हुए आवश्यक कार्रवाई की मांग की है।

Posted By: Jagran