जागरण संवाददाता, दुद्धी (सोनभद्र) : लौवा नदी के अस्थाई रपटे पर यातायात प्रतिबंधित किए जाने से रविवार की सुबह उस मार्ग पर यात्रा करने वाले राहगीर अचानक भड़क गए। रपटे पर ही प्रदर्शन करते हुए केंद्रीय लोक निर्माण विभाग के अभियंताओं के साथ ही तहसील एवं जिला प्रशासन के खिलाफ जमकर भड़ास निकालते हुए अस्थाई रपटे से तत्काल आवागमन शुरू कराने की मांग की।

रविवार की सुबह सवेरे आवश्यक कार्य से परिवार समेत जिला मुख्यालय की ओर जा रहे नगर निवासी दीपक कुमार एवं मोनू सिंह अस्थाई रपटे पर अवरोधक देख भड़क गए। अभी वे भड़ास निकालना शुरू ही किए थे कि तब तक क्षेत्र के एक गांव से प्रसव पीड़ा से कराह रही एक युवती को गंभीर अवस्था में जिला मुख्यालय की ओर ले जा रहे राजेश नामक युवक परेशान हो गया। बहरहाल प्रसूता की गंभीर स्थिति देखते हुए तत्काल लोगों ने उस वाहन को प्रवर्तित मार्ग की ओर भेजने के बाद लोगों का आक्रोश भड़क गया। दर्जन भर लोग अस्थाई रपटे पर पहुंच कर निर्माण एवं कार्यदाई संस्था पर लापरवाही बरतने का ठीकरा फोड़ते हुए स्थानीय एवं जिला प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी करना शुरू कर दिया। अस्थाई रपटे की मरम्मत कर 24 से 48 घंटे में कर देंगे बहाल

एनएच 75 ई के इस क्षेत्र के अवर अभियंता चंद्र प्रकाश गुप्ता ने जागरण के जरिये लोगों को आश्वस्त किया कि भारी बारिश के कारण अस्थाई रपटे के ऊपर तक आये पानी से मार्ग का कुछ हिस्सा क्षतिग्रस्त हुआ है। मौसम सा़फ होने के साथ उसकी मरम्मत कराकर अस्थाई रपटे पर से छोटे वाहनों की आवाजाही 24 से 48 घंटे के अंदर शुरू कराने का प्रयास किया जा रहा है।

Edited By: Jagran