जासं, शक्तिनगर (सोनभद्र) : महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ एनटीपीसी परिसर शक्तिनगर में एमएसडब्ल्यू तृतीय सेमेस्टर के छात्र-छात्राओं ने ग्राम शिवाजीनगर में छेड़छाड़ एवं दहेज प्रथा पर नुक्कड़ नाटक किया। आठ दिवसीय ग्रामीण शिविर में ग्रामीणों को छेड़छाड़ जैसी घटनाओं को रोकने में उनकी भूमिका के प्रति जागरूक किया। दहेज प्रथा पर नुक्कड़ नाटक के माध्यम से छात्र-छात्राओं ने यह संदेश दिया कि दहेज एक कुप्रथा है। इस प्रथा को समाप्त करने में सभी लोगों का योगदान आवश्यक है। दहेज प्रथा उन्मूलन के लिए सभी लोगों को जागरूक होना पड़ेगा। शिविर का आयोजन डा. मनिदर डिसूजा ने किया।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस