जागरण संवाददाता, सोनभद्र : लॉकडाउन के चौथे चरण की समाप्ति के बाद एक जून से रेलवे प्रशासन ने दो सौ ट्रेनों का संचालन करने जा रही है लेकिन सोनांचल से होकर एक भी ट्रेनें नहीं चलाई जाएगी। यहां के यात्रियों को ट्रेन पकड़ने के लिए वाराणसी, मीरजापुर या फिर प्रयागराज जाना पड़ेगा। जिले में किसी भी ट्रेन का संचालन न होने से जनपदवासी मायूस हैं और वे लंबी दूरी की एक-दो ट्रेनों के संचालन की मांग कर रहे हैं।

शक्तिपुंज एक्सप्रेस, भोपाल-हावड़ा साप्ताहिक एक्सप्रेस, अजमेर-संतरागच्छी साप्ताहिक एक्सप्रेस, अजमेर-कोलकाता एक्सप्रेस, त्रिवेणी एक्सप्रेस व मूरी एक्सप्रेस समेत दर्जन भर से अधिक ट्रेनों का संचालन जनपद से होकर होता रहा है। लाकडाउन के कारण सभी ट्रेनों का संचालन ठप कर दिया गया। रेलवे प्रशासन ने एक जून से महत्वपूर्ण लाइनों पर ट्रेनों को चलाने का आदेश जारी किया है। इससे जनपदवासियों को उम्मीद थी कि जनपद से भी होकर कुछ नहीं तो एक-दो ट्रेनें जरूर चलेंगी लेकिन रेलवे प्रशासन की तरफ से जारी चलने वाली दो सौ ट्रेनों की सूची में जनपद से होकर संचालित होने वाली एक भी ट्रेनों का नहीं चलाया जा रहा है। राब‌र्ट्सगंज के व्यापारी नेता रतनलाल गर्ग, लायंस क्लब के अध्यक्ष किशोरी लाल, शिक्षक शिवम अग्रवाल, रेणुकूट के सुमन सिंह, लालता गुप्ता आदि ने एक-दो महत्वपूर्ण ट्रेनों के संचालन की मांग की है। चोपन रेलवे स्टेशन जंक्शन के स्टेशन अधीक्षक ने बताया कि रेलवे ने एक जून से चलने वाली दो सौ ट्रेनों की सूची जारी की है। इसमें जनपद से होकर आने जाने वाली एक भी ट्रेनों का नाम नहीं है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस