जासं, सोनभद्र : जैन धर्म के भगवान महावीर स्वामी की जयंती के उपलक्ष्य में बुधवार को राब‌र्ट्सगंज नगर में भव्य शोभा यात्रा निकाली गई। इसमें नगर के काफी ज्यादा लोग शामिल हुए। जैन साधना भवन में सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया गया, जिसमें युवतियों व बच्चों ने एक से बढ़कर एक कार्यक्रम प्रस्तुत किया।

जैन समाज की तरफ से राब‌र्ट्सगंज स्थित जैन साधना भवन में पूजन के बाद शोभा यात्रा निकाली गई। राब‌र्ट्सगंज के मुख्य बाजार से होते हुए पुन: यात्रा जैन साधना भवन में पहुंची।

इस दौरान लोगों ने भगवान महावीर स्वामी के बताए मार्ग पर चलने का संकल्प लिया। वक्ताओं ने महावीर स्वामी के बारे में विस्तार से बताया। कहा कि महावीर स्वामी अहिसा के मूर्तिमान प्रतीक थे। उनका जीवन त्याग और तपस्या से ओतप्रोत था। एक लंगोटी तक का परिग्रह नहीं था उन्हें। हिसा, पशुबलि, जात-पात के भेदभाव जिस युग में बढ़ गए, उसी युग में पैदा हुए महावीर और बुद्ध। दोनों ने इन चीजों के खिलाफ आवाज उठाई। दोनों ने अहिसा पर जोर दिया। भगवान महावीर ने अपने प्रवचनों में अहिसा, सत्य, अस्तेय, ब्रह्मचर्य और अपरिग्रह पर सबसे अधिक जोर दिया। त्याग और संयम, प्रेम और करुणा, शील और सदाचार ही उनके प्रवचनों का सार था। भगवान महावीर ने श्रमण और श्रमणी, श्रावक और श्राविका, सबको लेकर चतुर्विध संघ की स्थापना की। जीवन का लक्ष्य है समता पाना। धीरे-धीरे संघ उन्नति करने लगा। देश के भिन्न-भिन्न भागों में घूमकर भगवान महावीर ने अपना पवित्र संदेश फैलाया।

मंगल आरती, भजन-कीर्तन के बाद बच्चों ने गीत, नृत्य व अन्य कार्यक्रम किया। इस मौके पर देवराज जैन, धर्मराज जैन, बाबूराम जैन, अध्यक्ष पवन जैन, पूर्व विधायक अविनाश कुशवाहा आदि शामिल रहे।

महावीरी शोभायात्रा के लिए पीस कमेटी की बैठक

जासं, शक्तिनगर (सोनभद्र) : हनुमान महोत्सव समिति शक्तिनगर द्वारा 19 अप्रैल को निकलने वाले महावीरी शोभायात्रा की सुरक्षा एवं शांति व्यवस्था के मद्देनजर थाने में पीस कमेटी की बैठक आयोजित की गई। बैठक की अध्यक्षता कर रहे उप पुलिस अधीक्षक पिपरी ज्ञान प्रकाश राय ने हनुमान महोत्सव समित के कार्यकर्ताओं से परंपरानुसार निकलने वाले महावीरी शोभायात्रा एवं झाकियों की जानकारी ली। उन्होंने सभी से लोकसभा चुनाव के तहत लगी चुनाव अधिसूचना की जानकारी देते हुए कहा कि कार्यक्रम में कहीं से भी चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन नहीं होना चाहिए। शोभायात्रा शांतिपूर्ण से निकलना चाहिए जिससे पूरे क्षेत्र की शांति व्यवस्था एवं आपसी भाईचारा बनी रहे। थाना प्रभारी आशीष सिंह ने असामाजिक तत्वों पर कड़ी नजर रखने पर जोर दिया। सभी क्षेत्रों से निकलने वाली शोभायात्रा एवं झाकियों के साथ सुरक्षा में पुलिस तैनात रहेगी। 19 अप्रैल को दोपहर के बाद कोयला परिवहन में लगे वाहनों का संचालन बंद रहेगा। इस अवसर पर हनुमान महोत्सव समिति के प्रशांत श्रीवास्तव, हेमंत मिश्रा, सन्नीशरण, शिवकुमार सिंह, ग्राम प्रधान चिल्काटांड़ रविद्र यादव, गुप्तेश्वर सोनी आदि उपस्थित रहे।

Posted By: Jagran