जागरण संवाददाता, सोनभद्र : आलइंवेस्टर सेफ्टी आर्गनाइजेशन के बैनर तले एक निजी कंपनी के पीड़ित निवेशकों ने शनिवार को पूर्वांचल अध्यक्ष के नेतृत्व में सांसद के उरमौरा स्थित कार्यालय पर धरना प्रदर्शन किया। इस दौरान सांसद प्रतिनिधि को ज्ञापन सौंपकर कंपनी में निवेशकों के लगाए गए पैसा को वापस किए जाने की मांग की।

पूर्वांचल अध्यक्ष बसंत विश्वकर्मा ने कहा कि एक निजी कंपनी जो पूरे देश में भूखंड देने के नाम पर एक मुश्त जमा योजना एवं किस्त भुगतान योजना के माध्यम से कार्य कर रही थी। इन योजनाओं के माध्यम से कंपनी देश के गरीब, मजदूर, किसानों एवं मध्यम वर्गीय निवेशकों से करोड़ों रुपये जमा करवाया था। केंद्र में एनडीए सरकार बनी तो सेवा के अधिकार बढ़ा दिया। सुप्रीम कोर्ट में निवेशकों द्वारा याचिका दाखिल करने के बाद 2016 में न्यायालय ने कंपनी के चल व अचल संपत्ति को नीलाम करते हुए छह माह में निवेशकों का पैसा भुगतान करने का निर्देश दिया था। लेकिन चार वर्ष बीतने के बाद भी किसी भी निवेशक को पैसा नहीं लौटाया जा सका है। निवेशकों ने सांसद पकौड़ी लाल कोल से शीघ्र ही समस्याओं को सरकार से अवगत कराते हुए भुगतान कराए जाने की मांग किया। इसमें कमलेश पटेल, सुखदेव प्रजापति, मो.इसू, शैलेश गुपता, विनोद गुपता, राधेरमण सिंह, रामसेवक पाल, दिनेश आदि थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप