जागरण संवाददाता, सोनभद्र : जैसा काम जमीन पर, वैसा ही काम कार्यालय में। यह बात हो रही बंधी प्रखंड द्वितीय के कार्यालय की। बुधवार को जागरण लाइव कार्यक्रम के तहत जब टीम बंधी प्रखंड द्वितीय के कार्यालय में पहुंची तो वहां का नजारा होश उड़ाने वाले थे। करीब 11 बजे अधिशासी अभियंता की कुर्सी खाली मिली। इसके अलावा कार्यालय में तैनात चार सहायक अभियंता व चार जूनियर इंजीनियर भी नहीं रहे। आधा दर्जन से अधिक तैनात बाबुओं में से चार उपस्थित मिले। इस दौरान जब जागरण की टीम ने खाली पड़ी कुर्सियों की फोटो लेनी शुरू की तो बंधी प्रखंड के परिचारक ने रोकना चाहा। बोलने लगे कि आप खाली कुर्सियों की फोटो न लीजिए।

बुधवार को जागरण टीम जब कार्यालय में पहुंची तो वहां पर कुछ कर्मचारी अपनी-अपनी कुर्सी पर काम करते मिले। अधिकांश कुर्सियां खाली पड़ी थीं, पूछने पर कोई भी कर्मचारी कोई स्पष्ट जवाब नहीं दे पाया। कुछ ने कहा कि साहब कार्यक्रम में गए हुए हैं तो कुछ ने बताया कि जनपद के दौरे पर गए हुए हैं। नाम न छापने की शर्त पर एक बाबू ने बताया कि बड़े साहब तो कार्यालय में आते हैं लेकिन सहायक अभियंता लोगों की उपस्थिति कार्यालय में न के बराबर ही रहती है। विभाग में काम अधिक न होने के कारण अधिकांश कर्मचारियों के कार्यालय आने व जाने का कोई समय नियत नहीं है।

किसान सम्मेलन में था

बंधी प्रखंड द्वितीय के अधिशासी अभियंता रामलाल ने बताया कि वह किसान सम्मेलन में गए हुए थे, इसलिए कार्यालय में नहीं थे। इसके अलावा विभाग में तैनात सहायक अभियंता विभिन्न कामों से बाहर थे। हर कर्मचारी समय से रहता है, अगर कुछ लोग मेरे न रहने पर कार्यालय से बाहर रहेंगे होंगे तो उन पर कार्रवाई की जाएगी।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप