जासं, घोरावल (सोनभद्र): स्थानीय ब्लाक क्षेत्र के ग्राम पंचायत कुस्महा मे काम के नाम पर स्वीकृत धन से दूसरा काम कराने के मामले में संबंधित ग्राम प्रधान व तत्कालीन सचिव के खिलाफ कोतवाली में शुक्रवार की देर रात एफआइआर दर्ज किया गया।

डीपीआरओ आरके भारती के निर्देश पर ग्राम प्रधान कुस्महा श्यामलाल विश्वकर्मा तथा तत्कालीन सचिव हफीउल्लाह के खिलाफ एडीओ पंचायत अजय कुमार सिंह ने तहरीर देकर कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज कराई है। शिकायत है कि वर्ष 2016 में एक लाख 89 हजार रुपए हैंडपंप कार्य के नाम पर धन को स्वीकृत किया गया था लेकिन, हैंडपंप से संबंधित कार्य न कराकर उक्त धनराशि से चबूतरा, नलकूप आदि निर्माण कार्य करा दिया गया। स्वीकृत धन का गलत ढंग से इस्तेमाल किया। इस मामले में डीसी मनरेगा ने लगभग एक महीने पहले जांच पड़ताल की थी और रिपोर्ट मुख्य विकास अधिकारी को सौंपा था। प्रकाश में आया कि कैश बुक तथा अन्य अभिलेखों में भी काफी हद तक हेराफेरी है। उच्चाधिकारियों के निर्देश पर शुक्रवार की रात एडीओ पंचायत अजय कुमार सिंह ने तहरीर देकर कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज कराई है। पुलिस ने संबंधित मामले में आरोपित ग्राम प्रधान तथा तत्कालीन सचिव के खिलाफ विभिन्न धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कर ली है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस