जासं, शाहगंज (सोनभद्र) : बिन पानी सब सून .. एक समय ऐसा था क्षेत्र के लिए जीवनदायनी बेलन नदी का पानी कभी सूखता नहीं था। लेकिन वर्तमान में इस नदी में धूल उड़ रही है। दूर-दूर तक पानी का कहीं नामोनिशान नहीं दिख रहा है। इसके पीछे प्रमुख कारण नदी पर जगह-जगह बनाए गए चेक डैम। समाजसेवी सुनील श्रीवास्तव व राम नरायन सिंह पटेल ने बताया कि पहले गर्मी के दिनों में नदी के किनारे बसे गांव के लोगों का जमावड़ा रहता था। लोग नहाने से लेकर कपड़े धुलने तक के कार्य के लिए नदी पर आश्रित रहते थे, लेकिन पिछले दस वर्षों से नदी में पानी की जगह धूल उड़ रही है। नदी से सटे गांव छोटकापुर निवासी प्रदीप कुमार ने बताया कि इस नदी का पानी 12 महीने निरन्तर बहता रहता था, लेकिन बेलन नदी में बने जगह जगह चेक डैम की बजह से नदी का अस्तित्व ही समाप्त हो गया। इस कारण नदी के किनारे बसे गांवों में पानी का संकट उत्पन्न हो गया है। आमजन ने नदी के अस्तित्व को बचाने की मांग जिला प्रशासन से की है।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस