जासं, सोनभद्र : भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन (एनएसयूआइ) के बैनर तले छात्रों ने राब‌र्ट्सगंज स्थित मेन चौक पर रविवार को मानव संसाधन विकास मंत्री का पुतला फूंका और जमकर नारेबाजी की।

जिला उपाध्यक्ष आकाश कुमार ने कहा कि छात्रहितों के लिए संघर्ष कर रहे इलाहाबाद विश्वविद्यालय के छात्रसंघ उपाध्यक्ष अखिलेश यादव को कुलपति द्वारा निलंबित कर दिया गया। वहीं पर छात्रावास के लिए संघर्षशील छात्रनेता रजनीकांत ने उत्पीड़न के चलते आत्महत्या कर ली। यूपीएससी परीक्षा में भी जमकर अनियमितता बरती गई। इससे साफ हो गया है कि वर्तमान सरकार छात्रहितों का ध्यान नहीं रख रही। छात्रहित के मुद्दों को लेकर संघर्ष कर रहे छात्रनेताओं को प्रशासन के जरिए कुचलने का प्रयास किया जा रहा है। इसका उदाहरण इलाहाबाद विश्वविद्यालय के छात्रनेता अखिलेश यादव हैं। छात्रों की समस्याओं को लेकर अखिलेश इलाहाबाद आए प्रदेश के मुख्यमंत्री को ज्ञापन देने के लिए निकलने हैं तो छात्रसंघ कार्यालय के समीप एक आइपीएस अधिकारी मारपीट करते हैं। अखिलेश के विरोध करने पर 14 छात्रों के खिलाफ संगीन धाराओं में प्राथमिकी दर्ज कर उत्पीड़न किया जा रहा है। प्रदर्शनकारियों ने छात्रनेता अखिलेश यादव के निलंबन को वापस लेने, छात्रहित में कार्य करने की मांग की है। वक्ताओं ने कहा कि निलंबन वापस न होने की दशा में छात्र प्रदेश भर में आंदोलन करेंगे। इस मौके पर सूरज वर्मा, देवेंद्र अवस्थी, गणेश विश्वकर्मा, रामाज्ञा त्रिपाठी, मुहम्मद फैज, आकाश गौतम, अमित कुमार, धीरज कुमार, नौशाद, सुनील गुप्ता, संदीप, अविनाश पटेल आदि मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप