जागरण संवाददाता, सोनभद्र : घोरावल थाना क्षेत्र के मूर्तिया ग्राम पंचायत के उभ्भा गांव में बुधवार को भूमि कब्जा को लेकर हुए खूनी संघर्ष के बाद जिला अस्पताल में घायलों व मृतकों के पहुंचते ही अफरा-तफरी मच गई। जिला अस्पताल में संसाधन के अभाव में घायल तड़पते रहे। जानकारी के बाद जिलाधिकारी के साथ ही जिले के आला अधिकारी जिला अस्पताल पहुंच गए। अस्पताल का मंजर देखकर हर किसी की आंखें डबडबा गईं। मूर्तियां ग्राम पंचायत के उभ्भा गांव में कई सालों से भूमि को लेकर चल रहे विवाद के बाद बुधवार को हुए खूनी संघर्ष के चलते करीब दो दर्जन से अधिक लोग घायल हो गए। गंभीर रूप से घायल एक दर्जन लोगों को जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया, लेकिन इसमे आठ लोगों की मौत रास्ते में हो गई जबकि चार लोगों को जिला अस्पताल में उपचार के लिए भर्ती कराया गया। जहां एक महिला की मौत जिला अस्पताल में उपचार के दौरान हो गई। जिला अस्पताल में एक साथ आठ लोगों का शव पहुंचते ही वहां पर अफरा-तफरी का माहौल उत्पन्न हो गया। अस्पताल में मौजूद सभी लोग सन्न रह गए। संसाधन के अभाव में घायल तड़पते रहे, लेकिन चाहकर भी चिकित्सक कुछ नहीं कर पा रहे थे। संसाधन की व्यवस्था न होने से चिकित्सक घायलों को पट्टी व पानी चढ़ाकर वाराणसी के लिए रेफर कर दिया। उधर इसकी सूचना होते ही जिलाधिकारी अंकित कुमार अग्रवाल के साथ ही जिले के आला अधिकारी मौके पर पहुंचकर घायलों का हाल जानने के बाद उन्हें वाराणसी रेफर कराया।

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran