जासं, अनपरा (सोनभद्र) : शाहपुर स्थित एनटीपीसी विध्याचल का ऐश डाइक की राखड़ बांध की दीवार का एक हिस्सा रविवार की शाम टूट गया। घटना के कारणों की पहचान करने के लिए प्रबंधन द्वारा एक जांच समिति का गठन किया गया है। प्रबंधन ने बताया कि प्रारंभिक जांच मे यह बात अभी सामने आई है कि घटना का कारण बांध पर उच्च हाईड्रो स्टेटिक दबाव रहा। जिसके परिणामस्वरूप बांध क्षतिग्रस्त हो गया।

हाईड्रो स्टैटिक दबाव की स्थिति गत 10-15 दिनों से क्षेत्र में भारी बारिश के कारण हुआ था। निकला हुआ राख का घोल एनटीपीसी परिसर के अंदर ही सीमित है। आसपास के गांव की भूमि में कोई नुकसान नहीं हुआ है। घटना में किसी भी तरह के जान-माल का नुकसान और ग्रामीणों की संपत्ति की क्षति नहीं हुई है। अभी तक के जांच में एनटीपीसी और सहयोगी एजेंसियों के उपकरण और संपत्ति के क्षति होने की ही जानकारी मिल रही है। कोई भी गांव प्रभावित नहीं हुआ है। घटना की जानकारी होते ही एनटीपीसी के अधिकारी तत्काल मौके पर पहुंचकर स्थिति को नियंत्रित करने हेतु कार्य में लगे रहे। निरंतर गश्त करने वाली टीमों को ऐश डाइक साइट पर तैनात किया गया है। स्थिति की निरंतर निगरानी के लिए एक नियंत्रण कक्ष स्थापित किया गया है। एनटीपीसी स्थिति को नियंत्रित करने के लिए युद्धस्तर पर 24 घंटे काम कर रही है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस