जागरण संवाददाता, सोनभद्र : वैश्विक महामारी घोषित कोरोना वायरस को हराने के लिए, इसके संक्रमण को रोकने के लिए देशभर में लॉकडाउन किया गया है। यानी कोई भी व्यक्ति अनावश्यक रूप से बाहर नहीं निकल सकता। स्वास्थ्य कर्मी, सफाई कर्मी, पुलिस कर्मी और मीडिया से जुड़े लोगों को इस प्रतिबंध से बाहर रखा गया। जब लोग अपनी जान बचाने व देश को सुरक्षित रखने के लिए घर में बैठे हैं तब ये कर्मयोगी चुनौतियों को मार कर घर-घर अखबार पहुंचाते हैं। जिससे आप व आपका पूरा परिवार लॉकडाउन का पालन करें। फिर इस स्थिति में कर्मयोगियों के लिए ताली तो बजनी ही चाहिए। इनका सम्मान करें तो हौसला बढ़ेगा।

राब‌र्ट्सगंज के बढ़ौली गांव निवासी कर्मयोगी प्रकाश गुप्ता नगर क्षेत्र में भ्रमण कर अखबार बांटते हैं। जिस समय लोग सो रहे होते हैं उस समय तक सैकड़ों घरों में अखबार देकर देश-दुनिया की खबरें पहुंचा चुके हैं। अपने कर्तव्यपथ पर डटे रहने वाले कर्मयोगियों का उत्साह तब और बढ़ जाता है जब अखबार लेने वाले इनके सम्मान में धन्यवाद कहते हैं। प्रकाश कहते हैं कि इस धन्यवाद पर कर्मयोगी आभार जताते हैं और देश-दुनिया की खबरों से अपडेट रहने के लिए सुरक्षित अखबार पढ़ते रहने की भी बात कहते हैं। बोले गणमान्य लोग--

कर्मयोगियों का कार्य सराहनीय है। इन्हीं की दे है कि हम लॉकडाउन का पूरा पालन करते हैं। देश-दुनिया की खबरों को जानने के लिए कहीं बाहर नहीं जाना पड़ता। इनका सम्मान हर किसी को करना चाहिए।

- अशोक मिश्रा, पूर्व जिलाध्यक्ष, भाजपा जनता की बात को सरकार तक ओर सरकार की योजनाओं को जन-जन तक पहुंचाने में कर्मयोगियों की अहम भूमिका है। इस लॉकडाउन में कर्मयोगी अपनी जान जोखिम में डालकर लोगों तक अखबार पहुंचाते हैं। इसके लिए वे बधाई के पात्र हैं।

- रमेश देव पांडेय, पूर्व जिलाध्यक्ष, कांग्रेस

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस