जागरण संवाददाता, दुद्धी/गोविदपुर : जमीन के लिए रविवार को दुद्धी व म्योरपुर थाना क्षेत्रों में जमकर लाठी-डंडे चले। इसमें दुद्धी के दीघुल में जहां भाई-भाई के बीच हुए विवाद में एक की मौत हो गई वहीं म्योरपुर थाना क्षेत्र के पड़री पट्टीदारों के बीच हुए विवाद में एक की मौत हो गई और तीन लोग घायल हो गए। दुद्धी में हुई घटना में जहां भाई की हत्या के आरोप पर एसपी ने पहुंचकर जांच किया वहीं पड़री में आरोपितों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करके पुलिस जांच कर रही है।

दुद्धी कोतवाली क्षेत्र के दीघुल में रविवार की सुबह भूमि विवाद को लेकर हुए खूनी संघर्ष में 45 वर्षीय युवक की अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई। इसकी खबर मिलते ही पुलिस महकमे में खलबली मच गई। अस्पताल पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। दोपहर बाद पुलिस अधीक्षक सलमान तेज पाटिल ने घटनास्थल का निरीक्षण कर मातहतों को आरोपितों को शीघ्र गिरफ्तार करने का निर्देश दिया। दीघुल में सौतेले भाइयों के बीच कई वर्षों से पैतृक भूमि को लेकर विवाद चल रहा था। सुबह करीब नौ बजे एक पक्ष विवादित भूमि को जोतने लगा तो सुरेश गुप्ता (55) पुत्र स्व. बेचन लाल गुप्ता विरोध करते हुए हल में लगे बैल को खोलने लगा। इसको लेकर दोनों परिवारों में लाठी-डंडा चलने लगा। आरोपित पक्ष ने सुरेश को लाठी से पीटकर घायल कर दिया। पीड़ित पक्ष की महिलाओं ने पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस गंभीर रूप से घायल सुरेश को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लायी। यहां चिकित्सक डा. विनोद सिंह उपचार शुरू ही करते कि मौत हो गई। मौत की सूचना पर पत्नी देवरानी एवं पुत्री रोने-चिल्लाने लगी। पुलिस ने घटना की पूरी जानकारी लेने के बाद आरोपितों के धरपकड़ में जुट गई। कोतवाल अशोक सिंह ने बताया कि आपसी रंजिश को लेकर गत तीस जून को भी दोनों भाइयों के बीच विवाद हुआ था। शिकायत मिलने परे पुलिस ने पूरे प्रकरण को गंभीरता से सूना था। विवाद न्यायालय में लंबित होने के कारण पुलिस उसमें कोई हस्तक्षेप नहीं किया। दोनों पक्षों को पहले समझाने का प्रयास किया गया, नहीं मानें तो दोनों के खिलाफ शांति भंग की कार्रवाई की गई थी। मृतक की पत्नी की तहरीर के आधार पर मुकदमा पंजीकृत कर लिया गया है।

इसी तरह म्योरपुर थाना क्षेत्र के पड़री गांव में भूमि विवाद को लेकर रविवार की सुबह करीब दस बजे दो पट्टीदारों में चटकी लाठी में एक की मौत हो गई व तीन लोग घायल हो गए। सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने सभी घायलों को उपचार के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया। जहां एक की हालत गंभीर होने पर जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया। घटना के बाद आरोपी मौके से फरार हो गए। पुलिस ने चार लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है।

प्रभारी निरीक्षक विजय शंकर सिंह के अनुसार रामसागर (34) अपने खेत में जोताई कर रहा था। इस पर मौके पर पहुंचे दूसरे पक्ष के शिवकुमार, महेंद्र, मधु, सरिता ने रामसागर पर कुल्हाड़ी व फावड़ा से वार कर दिया। जानकारी के बाद मौके पर बीच बचाव करने पहुंचे पिता हरिकिशुन (55), छोटे भाई राजेश (29), कौशल्या (30) पत्नी रामसागर, ददुनी देवी (30) पत्नी हरिकिशुन को भी पीटकर चारों ने घायल कर दिया। ग्रामीणों की सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस को देखकर आरोपी फरार हो गए। पुलिस ने सभी घायलों को एंबुलेंस से उपचार के लिए म्योरपुर सीएचसी में भर्ती कराया। जहां उपचार के दौरान हरिकिशुन की मौत हो गई वहीं गंभीर हालत होने पर चिकित्सकों ने राजेश को उपचार के लिए जिला अस्पताल रेफर कर दिया। शिष घायलों का इलाज म्योरपुर सीएचसी में चल रहा है। पुलिस ने चार के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर तलाश शुरू कर दी है। थानाध्यक्ष ने बताया कि भूमि को लेकर दोनों पक्षों में मारपीट हुई है। कहा कि जल्द ही सभी चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। मौके पर पहुंचे दुद्धी सीओ राहुल मिश्रा ने अस्पताल पहुंचकर घायलों का हाल जाना।

एसपी ने घटनास्थल का किया निरीक्षण

पुलिस अधीक्षक सलमानताज पाटिल ने दीघुल गांव में भूमि विवाद को लेकर हुई घटना के मामले में रविवार को दोपहर बाद सीओ राहुल मिश्रा के साथ घटनास्थल का निरीक्षण किया। वादिनी एवं पुलिस अधिकारियों से वस्तुस्थिति से अवगत हुए। इसके साथ ही इस तरह की घटना की पुनरावृत्ति न हो, इसके लिए मातहत पुलिस अधिकारियों को निर्देशित करते हुए घटना में शामिल आरोपितों को शीघ्र गिरफ्तार करने का निर्देश दिया।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप