जागरण संवाददाता, ओबरा (सोनभद्र) : स्थानीय आंबेडकर स्टेडियम में 29वीं उत्तर प्रदेश मास्टर एथलेटिक्स चैंपियनशिप का भव्य आगाज हुआ। शुभारंभ मुख्य अतिथि ओबरा तापीय परियोजना के मुख्य महाप्रबंधक इ. आरपी सक्सेना ने किया। पूरे प्रदेश से 35 से लेकर 80 वर्ष तक आये खिलाड़ियों के उत्साह से पूरे स्टेडियम में अलग ही रौनक शनिवार को दिखाई पड़ी। मुख्य अतिथि द्वारा खिलाड़ियों के परिचय के बाद ध्वजारोहण किया गया। सबसे पहले 800 मीटर दौड़ से प्रतियोगिता की शुरुआत हुई। पुरुषों के 70 साल प्लस आयु वर्ग में वाराणसी के रामधनी प्रथम तथा लखनऊ के बीएस यादव द्वितीय स्थान पर रहे। 65 प्लस आयु वर्ग में आगरा के सर्वेश पचौरी प्रथम, अलीगढ़ के उपदेव द्वितीय तथा वाराणसी के एसी दुबे तृतीय स्थान पर रहे। 60 प्लस आयु वर्ग में कानपुर के राम सिंह प्रथम, 55 प्लस में गंगा सागर प्रथम एवं रामलाल द्वितीय स्थान पर रहे। 50 प्लस में मीरजापुर के यूपी सिंह प्रथम तथा अलीगढ़ के दिनेश नागर द्वितीय स्थान पर 45 प्लस में सुल्तानपुर के राम लोचन यादव प्रथम तथा लखनऊ के रमेश कुमार द्वितीय स्थान पर रहे।

वहीं महिला 800 मीटर दौड़ में 40 प्लस में सोनभद्र की तृप्ति राय प्रथम व वाराणसी की प्राची द्वितीय स्थान पर रहीं। 35 प्लस में सोनभद्र की विद्यावती प्रथम रहीं। 100 मीटर दौड़ में 50 प्लस में वाराणसी की अख्तर बेगम प्रथम, 55 प्लस में सरिता कुशवाहा प्रथम, 65 प्लस में राजकुमारी वर्मा प्रथम, 75 प्लस में वाराणसी की सुशीला सिंह प्रथम, 45 प्लस में वाराणसी की नीलू मिश्रा प्रथम, 40 प्लस में वाराणसी की नीतू यादव प्रथम रहीं। 35 प्लस में सोनभद्र की श्वेता दुबे प्रथम व वाराणसी की इंदु यादव द्वितीय स्थान पर रहीं। शॉटपुट में दिखी प्रतिभा:

पुरुष शॉटपुट के 35 प्लस आयु वर्ग में कानपुर के कोमल किशोर प्रथम, मिटू दोहरे द्वितीय, 40 प्लस में अजय सिंह प्रथम, रुद्र मिश्रा द्वितीय, 45 प्लस में राजेश सिंह प्रथम, अभिलाष शर्मा द्वितीय, 50 प्लस में विनय अवस्थी प्रथम, 55 प्लस में राजेश कुमार सिंह प्रथम, 65 प्लस में टीएन तिवारी प्रथम स्थान प्राप्त किया। शॉटपुट महिला वर्ग के 40 प्लस में वाराणसी की प्राची प्रथम, 35 प्लस में सोनभद्र की संगीता प्रथम एवं 45 प्लस में अंजू सिंह प्रथम स्थान प्राप्त किया। 100मीटर दौड़ में मारी बाजी

पुरुष 100 मीटर दौड़ के 35 प्लस में प्रतापगढ़ के जितेन्द्र वर्मा प्रथम, सोनभद्र के साहेब जान द्वितीय तथा सुनील कुमार तृतीय स्थान पर रहे। 40 प्लस में आगरा के उमेश शर्मा प्रथम,45 प्लस में मुजफ्फर नगर के राजेश सोम प्रथम, 50 प्लस में अलीगढ़ के गोपाल प्रथम, 55 प्लस में प्रतापगढ़ के असलमुद्दीन प्रथम एवं 60 प्लस में जेएस यादव प्रथम रहे। आयोजन अध्यक्ष रमेश सिंह यादव, एसोसिएशन के सचिव दिनेश सिंह, कोषाध्यक्ष रंजना सिंह, वरिष्ठ खिलाड़ी राम वृक्ष यादव ने स्टेडियम में बनाए जा रहे ट्रैक सहित अन्य संसाधनों का निरीक्षण करते हुए आवश्यक निर्देश दिया। सचिव दिनेश सिंह ने बताया कि प्रतियोगिता में प्रदेश के 800 के करीब खिलाड़ी प्रतिभाग करेंगे।इनमे भारी संख्या में अन्तरराष्ट्रीय खिलाड़ी भी शामिल होंगे।बताया कि प्रतियोगिता में शामिल होने वाले खिलाड़ियों के ठहरने, भोजन सहित अन्य व्यवस्थाएं पूरी कर ली गयी है। बताया कि निर्णायकों में अन्तरराष्ट्रीय स्तर के रेफरी भी आएंगे। आगामी शनिवार को प्रात: 10 बजे प्रतियोगिता का शुभारम्भ किया जाएगा। संचालन कमाल अहमद एवं अनिल सिंह ने किया। हौसलों की उड़ान

80 वर्ष की होने वाली वाराणसी की सुशीला सिंह ने जब 100 मीटर की दौड़ शुरू की तो मैदान में मौजूद हर कोई हैरान था।वेश भूषा के तौर पर साड़ी में दौड़ रही सुशीला सिंह के हौसले को जहाँ हर कोई प्रणाम कर रहा था वहीं युवाओं के लिए वे बड़ी प्रेरणा साबित हुयी। मास्टर एथलीट में तमाम गोल्ड मेडल जीत चुकी सुशीला सिंह ने बताया कि जीवन एक दौड़ है जब तक दौड़ रहे हैं तब तक जीते रहेंगे। इसी तरह 72 वर्षीय वाराणसी के रामधनी तथा 74 वर्ष के लखनऊ के बीएस यादव भी आकर्षण का विषय रहे। दोनों खिलाड़ियों ने 800 मीटर की दौड़ को जिस निरन्तरता के साथ पूरा किया उससे सभी अभिभूत रहे। ओबरा में चल रही प्रतियोगिता के 70 साल के जवानों की ऊर्जा से हर कोई प्रेरित दिखा । पुराने रिकार्ड नहीं टूट पा रहे

आज भी पुराने रिकार्ड नहीं टूट पा रहे हैं, 30 से 40 साल पुराने रिकार्ड अभी भी बने हुए हैं जो वर्तमान में खेल की हालत को चरितार्थ कर रहा है। यह बातें पोलवाल्ट सहित कई स्पर्धाओं में 20 से ज्यादा अंतरराष्ट्रीय पदक जीत चुके प्रतापगढ़ के 73 वर्षीय खिलाड़ी खलील अहमद ने कही। कहा कि अमेरिका जैसी जगहों में पुरुष और महिलाओं के अलग-अलग कोचिग की व्यवस्था है लेकिन, भारत जैसे देश में यह नही है। कहा कि नये खिलाड़ियों को सुबह और शाम दोनों समय दो-दो घंटे का अभ्यास करना चाहिए। खासकर खानपान पर विशेष ध्यान देना चाहिए। खानपान में मिर्ची और मसाले का कम से कम प्रयोग होना चाहिए। कहा कि अगर सरकार बेसिक स्तर पर खेलकूद और प्रशिक्षण के गंभीर प्रयास करे तभी कोई बदलाव सम्भव है।

ये रहे मौजूद

यूपी एथलेटिक्स एसोसिएशन के अध्यक्ष नंदलाल सिंह, खेल अधिकारी समीर भटनागर, इ. राजकुमार गुप्ता, आयोजन अध्यक्ष रमेश सिंह यादव, एसोसिएशन के सचिव दिनेश सिंह, कोषाध्यक्ष रंजना सिंह, आयोजन सचिव राम वृक्ष यादव, इ. अदालत वर्मा, देवेन्द्र राय, सतेन्द्र सिंह, प्रशांत सिंह, रमेश वर्मा, भोला कनौजिया, एएन राय, अरविन्द सिंह मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस