सोनभद्र : जनपद में कछुआ चाल चल रही धान खरीद को लेकर किसानों में मायूसी व्याप्त है। खरीद कार्य बंद होने में मात्र 25 दिन से भी कम का समय बचा हुआ है और अभी तक जिला प्रशासन लक्ष्य से कोसों दूर है।

निर्धारित 45 हजार मीट्रिक टन के सापेक्ष संबंधित विभाग अभी तक 50 प्रतिशत भी खरीद नहीं कर पाया है। किसान मंगला प्रसाद, सुलोचन सिंह, विनोद शुक्ल ने कहा कि हम लोग क्रय केंद्रों पर चक्कर काटते-काटते थक गए हैं अब तो अपने उपज को बाजार में औने-पौने दाम पर बेचना ही मुनासिब है। जिला प्रशासन पर उपेक्षा का आरोप लगाते हुए कहा कि जिलाधिकारी ने पूरे खरीद के दौरान लगातार उदासीन रवैया अपना रहा, जो गलत है।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर