बिसवां,(सीतापुर):

²श्य 1- नगर के सिनेमा पोस्टर चौराहे से बड़े चौराहे के होटल तक नाले का पानी फ्लो होने से बड़ा चौराहा, रैन बसेरा, ब्राह्मणी टोला, पत्थर शिवाला, कोतवाली गेट पर जलभराव की समस्या उत्पन्न होती है।

²श्य 2- कैथीटोला गौढी से गोविद पुलिया तक नाले का निर्माण कार्य न होने के कारण गंदा पानी ओवरफ्लो होकर कैथी टोला, दायरा प्रथम और द्वितीय,मियागंज, काजीटोला, मिरदही टोला, आज मोहल्लों में जलभराव और दुर्गंध की समस्या बनी रहती है।

²श्य 3- रायगंज पुलिया से निकले नाले की वर्षों से सफाई कार्य नहीं हुआ और पालाथिन नालों के भीतर पटी पड़ी हुई है। इससे झज्जर, पटेल नगर, रायगंज प्रथम द्वितीय, मुहल्ले के निवासियों को दुर्गंध और जलभराव की समस्या का सामना पड़ता है।

मानसून की दस्तक होने वाली है। इसबार बारिश से उत्पन्न होने वाले जलभराव की समस्या से जूझने को नगरवासी तैयार रहें। पूर्व के वर्षों की भांति इस साल भी बरसात का पानी गलियों, घरों तथा दुकानों में जमा होना तय है। कारण यह है इस समस्या को लेकर पालिका प्रशासन ने अभी तक कोई ठोस कदम नहीं उठाए हैं। न अभी तक अभियान चलाकर नगर के नालों की सफाई कराई गई है। मोहल्लों, चौराहों जहां जरा सी बरसात के बाद जलभराव की स्थिति उत्पन्न हो जाती है। जिससे घरों व दुकानों में रखा सामान खराब हो जाता है।समस्या के समाधान लिए कोई धरातलीय कार्य योजना तैयार की गयी या नहीं यह कह पाना अभी संभव नहीं है। फिलहाल नगर के वार्डों में रहने वाली जनता को जलभराव की समस्या से जूझना तय है।

नगर में नहीं चला नाला सफाई अभियान

नगर के गंदे पानी को बाहर निकालने के लिए 19 छोटे, 6 बड़े कुल 25 नाले हैं। इनकी हर माह सफाई होनी चाहिए। जबकि मानसून के पहले नाला गैंग बनाकर सफाई अभियान चलाने का प्रावधान है, लेकिन अभी तक संपूर्ण अभियान नहीं चला है।

बदालपुरवा के घरों में जलभराव

इस समय रायगंज चौराहे से हजीरा, बदालपुरवा होते हुए निकला नाला सफाई के अभाव में चोक हो गया है। जिससे यहां के निवासी विजय कुमार सोनकर, हरेश सोनकर का कहना है घर में पानी भरा है। मनोज शाह, विजय, मूलचंद मौर्य ने बताया घरों के सामने सड़क पर पानी बह रहा है। जिससे लोगों को गंदे पानी से होकर निकलना पड़ रहा है।

भवनों के नीचे से निकले है गंदे नाले

मोहल्ला बदालपुरवा में नालों के ऊपर मकान बने हुए हैं। मकान बने होने के कारण यहां साफ सफाई नहीं हो पाती है। इस कारण से जलभराव की समस्या उत्पन्न हो जाती है।

नगर पालिका की स्थिति

55 हजार से अधिक जनसंख्या

25 वार्ड नगरपालिका बिसवां में

33 स्थाई तथा 77 संविदा सफाईकर्मी

19 छोटे तथा 6 बड़े नाले हैं नगर पालिका में

पालिका में मौजूद संसाधन

ट्रैक्टर, ट्राली, मिनी टिपर, जेसीबी, टैंकर आदि

गैंग बनाकर नाला सफाई का कार्य कराया जा रहा है। सफाई के लिए कुछ नाले बचे हैं जिनका जल्द ही सफाई कार्य पूरा हो जाएगा। मुहल्ला बदालपुरवा में बिल्डिग के नीचे से निकले नाले का जल्द ही पीछे से नया निर्माण कराया जाएगा। जलभराव की समस्या से निजात मिलेगी।

डा. देवेंद्र श्रीवास्तव, ईओ

Edited By: Jagran