संसू, सीतापुर : स्वतंत्र, निष्पक्ष और शांतिपूर्ण मतदान में वोटर लिस्ट की बड़ी भूमिका रहती है। यदि वोटर लिस्ट त्रुटिपूर्ण है तो संबंधित बूथ पर चुनाव के दौरान कभी-कभार विवाद देखने को मिलते हैं। साथ ही मतदान प्रतिशत भी बड़े स्तर पर प्रभावित होता है। इन्हीं कई ¨बदुओं को ध्यान में रखकर भारत निर्वाचन आयोग ने वोटर लिस्ट के दुरुस्तीकरण कार्य को एक अभियान से जोड़ा है। इसमें हर किसी की सहभागिता जरूरी की है, राजनैतिक संगठनों से भी सहयोग लेने को कहा है। फिलहाल, जिले में वोटर लिस्ट किस तरह दुरुस्त हो रही है, इसकी पड़ताल में चौकाने वाले तथ्य सामने आए हैं। मतदाता पुनरीक्षण अभियान की जानकारी ग्राम पंचायतों के प्रधानों तक को नहीं हैं।

पिसावां : मूड़ाकला प्रधान प्रतिनिधि कमल गुप्ता ने मतदाता पुनरीक्षण के संबंध में जानकारी न होना बताया। बिचपरिया गांव के बूथ पर बीएलओ सुशील व राजरानी बैठे थे। बताया दिन भर हो गया है कोई व्यक्ति बूथ पर नहीं आया है।

सरैयां : पहला के लोधौरा राजा साहब बूथ से जुड़े गांव लोधौरी के सुधीर वर्मा, दिनेश बाबा, विमल वर्मा, दीपक, चंद्रशेखर व छेदालाल आदि ने बताया कि मतदाता सूची के संबंध में उन्हें कोई जानकारी किसी ने नहीं दी है। न ही वोटर लिस्ट प्रकाशित हुई है।

कल्लीचौराहा : उदईपुर बूथ पर बीएलओ अंकिता देवी व पदाभिहित अधिकारी सुबोध कुमार बैठे थे। अंकिता ने बताया कि दिनभर हो गया है, गांव को कोई व्यक्ति बूथ पर तक नहीं आया है।

प्रधानों को बीएलओ दे रहे जानकारी : एसडीएम

रेउसा : राजापुर के प्रधान शफीक बीएलओ के बारे में बताते हैं कि मतदाता पुनरीक्षण अभियान के संबंध में वह अनभिज्ञ हैं। बिसवां एसडीएम शाशि भूषण राय का कहना है कि मतदाता पुनरीक्षण अभियान की जानकारी पंचायत मित्र व बीएलओ द्वारा प्रधानों को दी जा रही है। जिन प्रधानों को इस कार्यक्रम की जानकारी नहीं है तो उन्हें सूचित किया जाएगा। मतदाता पुनरीक्षण अभियान की सूचना सभी को है, अखबारों में भी प्रकाशित हो रहा है। अभियान की विशेष तिथियों में बीएलओ बूथ पर बैठ रहे हैं।

- विनय पाठक, उप जिला निर्वाचन अधिकारी बोले प्रधान

मतदाता पुनरीक्षण के संबंध में हमें कोई जानकारी नहीं है, ये कब से चलेगा। हमारे गांव में कई लोगों के वोट बढ़ने हैं। गांव में दो बूथ हैं, लेकिन वोटर लिस्ट इन बूथों पर नहीं आई है।

- सालिकराम, प्रधान, पथरी-पिसावां मतदाता पुनरीक्षण कहां हो रहा है, मुझे इसकी कोई जानकारी नहीं है। गांव में विनोद, राजमती, हेमलता बीएलओ हैं पर इन लोगों ने पुनरीक्षण के संबंध में किसी को नहीं बताया।

- देशराज यादव, प्रधान-गोलोक कोड़र-रेउसा मतदाता पुनरीक्षण अभियान के बारे में कोई बताएगा तभी जानकारी होगी न, गांव में कई लोगों के नाम सूची में बढ़ने व हटने हैं, लेकिन यहां पुनरीक्षण नहीं चल रहा है। गांव में शिक्षामित्र व पंचायत मित्र बीएलओ हैं, इन्हें भी कुछ नहीं मालूम है।

- रीना कुमारी, प्रधान-मेउड़ी छोलहा, रेउसा

मतदाता पुनरीक्षण कार्य कब से शुरू हो रहा है, ये हमें नहीं मालूम। गांव में कोई लेखपाल या अन्य जिम्मेदार पुनरीक्षण के संबंध में जानकारी देने तक आता नहीं है। यही कारण है कि वोटर लिस्ट में तमाम गलतियां होती हैं।

- बंधालाल, प्रधान, फखरपुर-पिसावां मेरी ग्राम सभा में मतदाता पुनरीक्षण कार्य नहीं हो रहा है। इस मामले में गांव में किसी भी व्यक्ति को कोई खबर नहीं है। वोट कब से बढ़ रहे हैं, ये मालूम हो जाए तो पात्रों के वोट ही बढ़वा दिए जाएं।

- रामनिकेत ¨सह, प्रधान-महुआताल-लहरपुर मतदाता पुनरीक्षण के संबंध में सूची प्रकाशन कागजों पर होता है। आप बता रहे हैं तो आज मालूम हुआ है कि वोट बढ़ने-घटने का काम शुरू हो गया है। तहसील-ब्लॉक से हमें कोई सूचना नहीं दी गई है।

- शंकर वर्मा, प्रधान, रूढ़ा भवनाथपुर-लहरपुर

Posted By: Jagran