सीतापुर : डिप्टी सीएम डा. दिनेश शर्मा ने बूथ अध्यक्षों से कहा कि टोलियों में रहकर सतत संपर्क करें। बैठकों में अधिक समय न गंवाना। कार्यकर्ता से डोर-टू-डोर मिलना। मतदाताओं की संख्या को मतदाता सूची में बढ़ाना। गलत नाम सूची में न रहे, ध्यान रखें। डिप्टी सीएम ने बूथ कार्यकर्ता के दायित्व भी बताए।

उन्होंने कहा कि डंके की चोट पर और सीने को ठोक कर कह सकते हो कि आज दुनिया आपकी सरकार की प्रगति देख रही है। कोरोना काल में अमेरिका, ब्रिटेन कराह रहा था। आज यूपी में 15 करोड़ लोगों का एंटी कोरोना वैक्सीनेशन हो गया है। पांच-पांच एक्सप्रेस-वे बन रहे हैं। मेट्रो चल रही है। ये वही यूपी है, जो पूर्व में माफिया तंत्र के लिए जाना जाता था। पहले माफिया से पुलिस वाले भी घबराते थे। आज माफिया कांस्टेबल का डंडा देख ले तो भाग जाता है। इसलिए आप (बूथ अध्यक्ष) घर-घर जाओ अलख जगाओ कि कोरोना था तो हम आए थे। हमारे छह विधायक दिवंगत हो गए थे। भाजपा कार्यकर्ता संगठन ही सेवा और सेवा ही संगठन के नाम से गांव-गांव घूमकर मेडिकल किट पहुंचा रहा था। सैनिटाइजर व मास्क बांट रहा था। कम्युनिटी किचन की व्यवस्था कर रहा था। रोगियों को अस्पताल भेजने के साथ उनके परिवार की सेवा कर रहा था।

डिप्टी सीएम ने खुले मंच से पूछा कि जरूरत के समय विपक्षी कहां चले गए थे। कोरोना संक्रमण काल सेवाभाव की इन विपक्षियों की एक फोटो भी दिखाई पड़ी हो तो बताओ। इनके बड़े नेता अपने चुनाव क्षेत्र तक में नहीं गए। हमने सेवा की है और उसी के आधार पर चुनाव मैदान में हैं। डिप्टी सीएम ने कहा, हे लोकतंत्र के प्रहरियों भाजपा के सेनानियों संकल्प लेकर चुनावी यज्ञ में हम सबकी आहुति मतदान के दिन होगी। मतदान की संरचना करने वाले बूथ अध्यक्षों तैयार हो जाओ। बूथ सम्मेलन का यही आह्वान है।

Edited By: Jagran