सीतापुर, जेएनएन। राम मंदिर बनाने के लिए भाजपा का साथ नहीं देंगे। मंदिर बनेगा तो गरीबों को क्या मिलेगा। सरकार शिक्षकों की भर्ती जल्द करे। जिससे शिक्षकों के खाली पद भर सकें और बच्चों को शिक्षा मिल सके। यह बात रविवार को राष्ट्रीय माध्यमिक विद्यालय परिसर में आयोजित अर्कवंशी समाज की सभा में मुख्य अतिथि सुहेल देव भारतीय समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पिछड़ा वर्ग कल्याण एवं दिव्यांगजन सशक्तीकरण मंत्री ओमप्रकाश राजभर ने कही। 

मंत्री ने कहा कि वोट मांगने आने वाले नेताओं से पहले क्षेत्र के गरीब बच्चों की शिक्षा के लिए बात करें। इसके साथ ही शराब बंदी भी होनी चाहिए। ताकि हर घर में शांति रहे। 27 जिलों में शराब बंदी का बिगुल बजा दिया है। शराब से लोग दूर होंगे तो नुकसान से बचेंगे। कहा, हम समाज के हित को लेकर संघर्ष के मैदान में कूदे हैं, चाहे जो हस्ती हो किसी के सामने भी चुनाव मैदान में उतर सकते हैं। उन्होंने कहा कि हमे समाज के लोगों का साथ चाहिए। समाज साथ होगा तभी उनके अधिकारों की रक्षा कर पाएंगे। अंग्रेजों के गुलाम रहे नेताओं से बचने के लिए सभी को जागरूक होना होगा। अर्कवंशी समाज जागरूक होगा तभी सम्मान मिलेगा और अधिकार भी। 

उन्होंने कहा कि समाज के लिए वह मंत्री पद भी त्याग देंगे। प्रदेश सरकार का तीन वर्ष अभी बाकी हैं। वह गांव-गांव दौरा कर जन जागरण कर रहे हैं। समाज से वे और भी विधायक बनाएंगे। अर्कवंशी समाज की राजनीति में भागीदारी शून्य है। जबकि प्रदेश में 50 लाख की आबादी है। अर्कवंशी समाज राजनीतिक व आर्थिक रूप से तभी प्रगति करेगा जब जागरूक रहेगा। इसके लिए समाज को जागरूक कर रहे हैं। उन्होंने सपा, भाजपा, कांग्रेस व बसपा पर भी निशाना साधा। इस दौरान सुनील अर्कवंशी, वीरेंद्र अर्कवंशी, बलवीर सिंह, राधिका पटेल, श्याम बिहारी अर्कवंशी आदि मौजूद रहे। 

Posted By: Anurag Gupta

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप