सीतापुर: सूर्य के उत्तरायण व मकर राशि में प्रवेश करते ही गुरुवार को मकर संक्रांति का पर्व प्रात: शुरू हुआ। पर्व को सभी हिदू परिवारों में धूमधाम व हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। लोगों ने परंपरा का पालन करते हुए भोर में ही स्नान किया। स्नान के बाद भगवान सूर्य व श्रीहरि विष्णु की उपासना की। उसके बाद अपने से श्रेष्ठजनों को खिचड़ी, गुड़, तिल, का दान किया। साथ ही खिचड़ी खिलाई, भेंट स्वरूप दक्षिणा दी।

मुस्कान संस्था की ओर से खैराबाद स्थित कुष्ठ आश्रम में खिचड़ी भोज कराया। बच्चों को स्वेटर, टोपी, मोजा, सब्जी, फल, मीठा, चॉकलेट आदि का वितरण किया। यहां मौजूदा समय में चालीस परिवार हैं। अमित अग्रवाल, रूपा अग्रवाल, श्रद्धा शर्मा, दीपराज, अनामिका सहित अन्य पदाधिकारी मौजूद रहे। नैमिषारण्य में सुबह से ही श्रद्धालुओं के पहुंचने का क्रम शुरू हो गया था। श्रद्धालुओं ने आदि गंगा गोमती व चक्रतीर्थ में स्नान किया। स्नान करने के बाद घट पर मौजूद ब्राह्मणों, कुमारी कन्याओं को दान पुण्य किया। भक्तों ने ललिता देवी मंदिर, हनुमान गढ़ी, कालीपीठ, व्यास गद्दी, सूत गद्दी, देवदेवेश्वर में दर्शन, पूजन, अर्चन किया।

पिसावां में राम मंदिर निर्माण समिति के कार्यालय पर भगवान श्रीराम जी की मूर्ति स्थापना कर पूजा पाठ कर खिचड़ी भोज का आयोजन किया गया। आचार्य स्वामी स्वरूपानंद ने भगवान श्रीराम की मूर्ति की स्थापना कर पूजा पाठ किया। बैठक कर राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के जिला सहकार्यवाह करूणा शंकर कटियार ने भगवान श्रीराम के मंदिर के निर्माण मे सहयोग करने की बात कही। तथा संगठन को मजबूत बनाने के लिए जोर दिया। जिसके बाद खिचड़ी भोज का आयोजन किया गया। इस अवसर लोकतंत्र सेनानी अनिल सिंह, शिव प्रताप सिंह, साकेत सिंह, राहुल सिंह, निर्दोष आदि लोग मौजूद रहे।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021