सीतापुर, जेएनएन। प्रदेश के कानून एवं न्याय मंत्री ब्रजेश पाठक ने सीतापुर के महमूदाबाद में हिंदूवादी नेता कमलेश तिवारी के परिवार के सदस्यों से भेंट की। इस दौरान कमलेश तिवारी की मां काफी भावुक हो गई। कैबिनेट मंत्री ब्रजेश पाठक ने कमलेश तिवारी की मां से काफी देर बात की और हर स्तर पर सरकार का साथ मिलने का भरोसा दिलाया। उनसे वादा किया कि उनके पुत्र के हत्यारों को मौत की सजा दिलाएंगे।

अम्बेडकरनगर विधानसभा चुनाव की व्यस्तता के बाद आज कैबिनेट मंत्री ब्रजेश पाठक सीतापुर में कमलेश तिवारी के परिवारजन से मिलने के लिए महमूदाबाद पहुंचे। परिवार से मुलाकात करने के बाद बाहर मीडिया से बातचीत करते हुए मंत्री ने कहा कि हम परिवार और पूरे प्रदेश को भरोसा दिलाते हैं कि हत्यारे शीघ्र पकड़े जाएंगे। इस मामले को हम फास्ट ट्रैक कोर्ट में ले जाएंगे। इस मामले की रोज सुनवाई होगी। हम कोर्ट से अपील करेंगे कि छह महीने के भीतर ही इन्हें सजा-ए-मौत की सजा हो। कानून मंत्री ब्रजेश पाठक ने कमलेश के परिजनों को बताया कि सरकार इस मामले को फास्ट ट्रैक कोर्ट में ले जाएगी और हत्यारों के लिए फांसी की भी मांग करेगी।

उन्होंने कहा कि इस दुख की घड़ी में प्रदेश सरकार इस परिवार के साथ खड़ी है। कमलेश तिवारी के परिवार को कोई कष्ट न हो, हम इसकी भी व्यवस्था करेंगे। एक सवाल के जवाब में मंत्री ने कहा कि हत्यारों की इनोवा ट्रेस हो गई है। अभी जांच चल रही है, इसलिए हम इस बारे में अधिक नहीं कहेंगे। उन्होंने कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष के बयान पर कुछ भी कहने से इन्कार कर दिया।

उन्होंने कहा कि इस मामले में किसी भी राजनीतिक दल को कोई राजनीति नहीं करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि हमारी परिवार के साथ हमारी पूरी संवेदनाएं हैं। हमारे इस परिवार से खून के रिश्ते हैं। घटना के दिन मैं लखनऊ में नहीं था। इस वजह से वापस आकर मैं यहां मुलाकात करने के लिए आया हूं। परिवार के मांग पत्र के बारे में उन्होंने कहा कि इसका जिक्र उनके सामने किसी ने नहीं किया गया है। मंत्री ने बताया कि सुरक्षा के प्रति परिवार सीतापुर पुलिस से पूरी तरह संतुष्ट है।

मीडिया पर भी पहरा

मंत्री बृजेश पाठक के महमूदाबाद आने के वक्त तहसील मीडिया को भी घर से दूर रखा गया। डीएम अखिलेश तिवारी ने बताया कि सुरक्षा के दृष्टि से ऐसा किया गया है।  

Posted By: Dharmendra Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप