सीतापुर (जेएनएन)। सीतापुर में आज प्राइवेट बस की रफ्तार का कहर 33-34 लोगों को झेलना पड़ा। एक तेज रफ्तार बस अनियंत्रित होकर पलट गई। जिससे एक व्यक्ति की मौके पर ही मौत हो गई जबकि 31 घायलों में 20 गंभीर है। इन सभी को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मृतक की शिनाख्त नहीं हो सकी है।

सीतापुर में आज सुबह तालगांव कोतवाली इलाके के लहरपुर सीतापुर मार्ग पर पारा गांव के पास तेज रफ्तार प्राइवेट बस पलट गई। जिससे एक यात्री की मौके पर ही मौत हो गई। मृतक की शिनाख्त नहीं हो सकी है, लेकिन अनुमान लगाया गया है कि उनकी उम्र 45 वर्ष है। इसके साथ ही बस में बैठे 31 लोग घायल हो गए, जिनमें 20 गंभीर को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

सीतापुर से करीब 30-35 सावारियों को लेकर एक प्राइवेट बस (यूपी 14 ए टी 1358) आज तंबौर के लिए रवाना हुई। बस जब तालगांव कोतवाली क्षेत्र अंतर्गत लहरपुर-सीतापुरमार्ग पर ग्राम कन्नपुर के पास पहुंची तभी बेकाबू होकर सड़क किनारे पेड़ से जा भिड़ी। बस की रफ्तार तेज थी। टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि बस के अगले हिस्से के परखच्चे उड़ गए। चारों ओर चीख पुकार मच गई। आसपास के लोग दौड़े और तत्काल लोगों को बाहर निकलाने में जुट गए। पुलिस को भी सूचना दी गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने सभी को जिला अस्पताल पहुंचाया। 

घायलों में तीन बच्चे और कुछ महिलाएं भी शामिल हैं। ज्यादातर घायल शिक्षक हैं। घायलों में शिक्षक तिलकराम, बृजेश पांडे, अजय कुमारी आदि शामिल हैं। इसके अलावा हादसे में शब्बो पत्नी सानू, ओंकार सिंह, मोहित अजय कुमार श्रीवास्तव, ओमपाल, शिवदयाल, धीरज तिवारी, इंद्रेश, मुस्कान, संजू देवी, कृष्णा आदि शामिल हैं। कई घायल मामूली चोटिल होने के कारण मौके से ही निकल गए। कुछ लोगों ने सीएससी परसेंडी में उपचार कराया है। जिला अस्पताल में आए घायलों में से तीन लोगों को लखनऊ रेफर किया गया है।

डीएम सहित पुलिस और प्रशासनिक अफसर मौके पर पहुंचे और घायलों का हालचाल पूछा। हादसे में बस के परखच्चे उड़ गए। उसका चालक व परिचालक मौके से भाग निकले। घटना में चालक की लापरवाही बताई जा रही है। घायलों की अभी तक पहचान नहीं हो सकी है। पुलिस और प्रशासन उनकी पहचान कराने का प्रयास कर रहा है। एडीएम विनय कुमार पाठक ने बताया कि 31 घायल हुए हैं। इनमें 20 की हालत गंभीर है।

By Dharmendra Pandey