सिद्धार्थनगर : अब ग्राम पंचायतों में उपस्थिति को लेकर ग्राम सचिवों की मनमानी नहीं चलेगी क्योंकि पंचायत भवन पर अंकित विवरण ग्रामीणों को यह बताएगा कि पंचायत सचिव किस दिन वहां उपस्थित रहेंगे।विकास खंड स्तर से उपस्थिति के लिए तैयार रोस्टर को पंचायत भवन पर अंकित कराने की तैयारी चल रही है। इसके लिए जिला पंचायत राज अधिकारी आदर्श ने सोमवार को सभी खंड विकास अधिकारियों व सहायक विकास अधिकारियों को पत्र लिखकर एक सप्ताह के भीतर अंकन कार्य पूर्ण कराए जाने का निर्देश दिया है। विभाग ने सभी बीडीओ से रोस्टर तैयार कर ग्राम पंचायत सचिवों के लिए ग्राम पंचायत में उपस्थित रहने का दिन निर्धारित कराया है़। अब निर्धारित दिवस का अंकन प्रत्येक ग्राम पंचायत भवन पर कराया जाएगा जिससे ग्रामीणों को पता चल सके कि उनके गांव में सचिव कब उपस्थित रहेंगे।सचिवों को उस दिन पंचायत भवन पर उपस्थित होकर विकास कार्यों को गति देनी होगी। यह व्यवस्था यदि ठीक ढंग से मूर्त रूप ले सका तो अब ग्राम प्रधानों व रोजगार सेवकों को हर काम के लिए ग्राम सचिव के पीछे-पीछे नहीं दौड़ना पड़ेगा। अक्सर गांवों में न जाकर विकास खंड मुख्यालय या अपने घर से ही सचिवों द्वारा ग्राम पंचायतों को संचालित किए जाने की शिकायतें मिलती रहती हैं। इससे जहां विकास कार्य प्रभावित होते थे वहीं ग्रामीण भी अपने अधिकारी से अपनी बात नहीं रख पाते थे। डीपीआरओ ने विकास खंड स्तर पर तैयार ग्राम सचिवों का क्लस्टरवार रोस्टर बीडीओ को प्रेषित करते हुए ग्राम पंचायत भवन के दीवाल पर सचिव का उपस्थिति दिवस अंकित कराने का निर्देश दिया है।

डीपीआरओ ने बताया कि जिलाधिकारी व मुख्य विकास अधिकारी के निर्देशों का अनुपालन करने के लिए सभी बीडीओ को निर्देश दिया गया है। दीवार पर सचिव के उपस्थिति का दिवस अंकित होने पर ग्रामीणों को आसानी होगी।

Edited By: Jagran