सिद्धार्थनगर: समाजवादी अध्ययन केंद्र पर बुद्ध विद्या पीठ के छात्रों की एक बैठक बुधवार को हुई। इस दौरान डिग्री कॉलेज चुनाव की तिथि घोषित में हो रही देरी से नाराज छात्रों ने आंदोलन की रणनीति बनाई।

बैठक को सम्बोधित करते हुए पूर्व छात्रसंघ उपाध्यक्ष रामऔतार यादव ने कहा कि छात्रसंघ राजनीति की नर्सरी होती है। छात्र राजनीति से ही नौजवान छोटे छोटे मुद्दों की लड़ाई लड़ने को सीख पाता है। समाजवादी राजनीति के बड़े नेता डा. लोहिया हमेशा नौजवानों को छात्रहित के लिए राजनीति करने को प्रेरित करते रहते थे। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव छात्रसंघ के चुनाव के समर्थक रहे हैं। छात्रनेता सौरभ ¨सह ने कहा की बुद्ध विद्या पीठ के छात्रसंघ का गौरवशाली इतिहास रहा है। यहां के छात्र राजनीति से निकले नौजवानों ने राजनीति में महत्वपूर्ण स्थान बनाया है। राजन अग्रहरि ने कहा छात्रों के हितों की लड़ाई सबके सहयोग से ही मजबूती से लड़ी जाएगी। कार्यक्रम में शशांक ¨सह, शाहरुख पठान, आतिफ आलम, गौतम मिश्रा, अंकित चतुर्वेदी, विराट यादव, अमरेंद्र पांडेय, राहुल ¨सह, सोनू पठान, अर्पित ¨सह, कलीम अंसारी, अविनाश मिश्र, सत्यम मिश्र, विपुल शुक्ल, अभिलाष मिश्र, पवन शर्मा सहित आदि छात्र उपस्थित रहे।

Posted By: Jagran