सिद्धार्थनगर: पौराणिक नगरी भारतभारी स्थित शिवमंदिर में खिचड़ी चढ़ाने की परंपरा वर्षों पुरानी है। गुरुवार संक्रांति पर्व पर श्रद्धालुओं का उत्साह देखते ही बन रहा था। ठंड पर श्रद्धालुओं की आस्था भारी पड़ी। सुबह से ही श्रद्धालुओं ने पवित्र सरोवर में स्नान कर खिचड़ी दान किया।

संक्रांति पर्व पर बुधवार से ही मंदिर परिसर में श्रीराम कथा का आयोजन प्रारंभ हुआ जो गुरुवार देर शाम तक चला। सुबह से ही ऐतिहासिक शिव मंदिर में श्रद्धालुओं का तांता लगा रहा। लोगों ने भोलेनाथ को खिचड़ी चढ़ाई और मंदिर परिसर में आयोजित खिचड़ी सहभोज में प्रसाद भी ग्रहण किया। भनवापुर प्रतिनिधि के अनुसार ग्राम पंचायत दर्शनिया में खिचड़ी सहभोज का आयोजन किया गया। समाजसेवी मायाराम अग्रहरि ने 51 संतों को खिचड़ी भोज कराने के साथ ही उन्हें अंगवस्त्र, कंबल तथा पात्र देकर आशीर्वाद लिया। भारती श्रीचित्रवंशी ने अपने भजनों के मार्फत लोगों को भक्ति रस से सराबोर कर दिया। किशोरदास, लीलाधर मिश्र, बहरैची प्रसाद, गंगाराम, ओमप्रकाश, कृष्णचन्द्र, अवधराम, रामशब्द, तुलसीराम, राम लल्लन दास आदि मौजूद रहे। हर्षोल्लास व श्रद्धापूर्वक मना लोहड़ी का पर्व

सिद्धार्थनगर : नगर के अकबर नगर वार्ड स्थित गुरुद्वारा सिंह सभा में बुधवार की रात लोहड़ी का पर्व हर्षोल्लास व श्रद्धा पूर्वक मनाया गया। आग जलाकर श्रद्धालुओं ने परिक्रमा किया, मूंगफली, लावा, रेवड़ी आदि को अग्नि को समर्पित करने के उपरांत लोगो में प्रसाद वितरण किया गया।

इसके उपरांत नृत्य व गायन के माध्यम से महिलाएं, बच्चों व पुरुषों ने खुशी का इजहार किया। ज्ञानी कुलवंत सिंह ने कहा कि सिख धर्म मानने वालों के लिए लोहड़ी पर्व काफी महत्वपूर्ण है। इस अवसर पर गुरुद्वारा में गुरुग्रंथ साहिब का पाठ, अरदास, सबद कीर्तन सहित विविध कार्यक्रम का आयोजन किया गया । कार्यक्रम में गुरमीत सिंह बग्गा, सरदार स्वर्ण सिंह, हरीश चंदवानी, सभासद मो इरफान सिद्दीकी, राकेश बग्गा, सुरेंद्र कौर, मंजीत कौर, मनप्रीत कौर, हरीप्रीत कौर, ज्योति बग्गा, सरदार रवेन्द्र सिंह, सरदार अजीत सिंह, नरेश चंदवानी, सरदार सन्नी सिंह, दिलीप सिंह, विजय वधवा, अमन दीप सिंह, नमन दीप सिंह, गुरुदत्त चंदवानी, गुलशन वधवा आदि मौजूद रहे।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021