सिद्धार्थनगर, जागरण संवाददाता। पुलिस अपराधों को रोकने के लिए लगातार प्रयास कर रही है। लगातार गैंग बनाकर अपराधों को अंजाम देने वाले अपराधियों पर पुलिस अधीक्षक की निगाह टेढ़ी हुई है। उन्होंने जनपद में चिन्हित 21 गैंगों के 70 सदस्यों पर विशेष निगाह रखने के निर्देश दिये हैं। एक बदमाश के खिलाफ एक आरक्षी को निगरानी में लगाया जाएगा। यदि वह अपराध करेगा और इसकी पूर्व सूचना थाने को नहीं मिलेगी तो संबंधित आरक्षी के खिलाफ निलंबन तक की कार्रवाई की जाएगी।

कुर्क हुई गैंगस्‍टर की संपत्‍त‍ि

गैंगस्टरों पर पुलिस ने नकेल कसने के प्रयास शुरू किया है। इसके तहत शिक्षा माफिया व गैंगस्टर राकेश कुमार सिंह की करीब तीन करोड़ रुपये की संपत्ति कुर्क की गयी है। अन्य गैंगस्टरों के आय की जानकारी पुलिस जुटा रही है। आय से अधिक की संपत्ति मिलने पर उसकी जब्ती होगी।

चोरी के सर्वाधिक चार गैंग में शामिल हैं 12 सदस्य

जनपद में चाेरी की घटनाओं में चार गैंग की भूमिका पायी गयी थी। इनके खिलाफ गैंगस्टर की कार्रवाई की गयी है। इन गैंग में कुल 12 सदस्य शामिल हैं। सदर थाने में चोरी के दो, मोहाना एक, कपिलवस्तु एक, कठेला एक और बांसी में एक गैंग पंजीकृत हैं। इसके अलावा हत्या के दो, गोवध दो, दुष्कर्म व लूट एक-एक, नकबजनी तीन, वाहन चोर चार, अन्य चोरी के चार, आबकारी के दो और अन्य अपराधों से जुड़े तीन गैंग पर पुलिस की खास निगाह है।

चिन्हित गैंगस्टरों पर निगाह रखी जा रही है। गैंग से जुड़े सदस्यों की निगरानी के लिए आरक्षियों को लगाया गया है। इनकी गतिविधिया संदिग्ध मिली तो सख्त कार्रवाई की जाएगी। - अमित कुमार आनंद, एसपी।

तस्करी के सामान के साथ एक धराया : एसएसबी 43वीं वाहिनी के जवानों ने कपिलवस्तु थाना के मटियारिया गांव के पास तस्करी का मोबाइल पार्टस बरामद किया है। यह सामान भारत से नेपाल ले जाया जा रहा था। तस्करी के आरोप में नेपाल निवासी एक व्यक्ति को पकड़ा। आरोपित नाम कपिलवस्तु जिला के यशोधरा गांव पालिका वार्ड नंबर एक निवासी रामकुमार है। टीम ने मोबाइल कवर, चार्जर, केबल आदि सामान बरामद किया है। कार्रवाई करने वाली टीम में डी अपाला, पंडित सिंह, एन मेघा आनंदम आदि मौजूद रहे।

Edited By: Pradeep Srivastava