जागरण संवाददाता, शाहजहांपुर: सिंधौली के शिवनगर गांव में 15 दिन से लापता छात्रा का शव मिलने में पुलिस को अहम सुराग मिला है। छात्रा के सिर पर डंडे के प्रहार से चोट का निशान मिला है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में उसकी मृत्यु का कारण पानी से डूबने के कारण होना बताया गया है। ऐसे में आशंका है कि छात्रा को बेहोशी हालत में बोरे के अंदर बंदकर तालाब में फेंका गया था।

दियुरिया गांव के पास तालाब में मिला था शव

सिंधौली थाना क्षेत्र शिवनगर गांव निवासी सुखलाल की बेटी अर्चना क्षेत्र के कोरोकुइया स्थित ईडन पब्लिक स्कूल में इंटर में पढ़ती थी। 10 जनवरी को वह स्कूल जाने की बात कहकर घर से निकली थी। लेकिन उसके बाद वापस घर नहीं पहुंची। मंगलवार को छात्रा का शव सिंधौली थाना क्षेत्र के दियुरिया गांव के पास तालाब के अंदर से बंद बोरे में बरामद किया गया था। तीन डाक्टरों के पैनल से हुए पोस्टमार्टम में छात्रा के सिर में पहले डंडे से प्रहार के कारण चोट के निशान व पानी में डूबने से उसकी मृत्यु होने की पुष्टि हुई है।

पुलिस ने जताई ये आशंका

ऐसे में पुलिस का मानना है कि हत्या करने वाले ने पहले उसके सिर पर डंडे से प्रहार किया है। इसके बाद उसे मृत समझकर बोरे में बंदकर तालाब में फेंक दिया। वहीं छात्रा की 10 जनवरी को गांव के जिस युवक से आखिरी बार फोन पर बात हुई थी उसे इंदौर से बुलाया है। शाम तक वह घर पहुंच जाएगा। यह युवक भी शिवनगर गांव में ही रहता है, जिससे छात्रा की नजदीकियां बताई जा रही है। प्रभारी निरीक्षक महेंद्र सिंह ने बताया कि छात्रा की अंत्येष्टि पुलिस की मौजूदगी में कराई जाएगी। जल्द राजफाश हो जाएगा।

Edited By: Nirmal Pareek

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट