सिद्धार्थनगर, जागरण संवाददाता। सिद्धार्थनगर जिले के मोहाना थाना क्षेत्र के बर्डपुर कस्बे में मंगलवार की रात 11 बजे बाइक सवार दो युवकों को एक ट्रक ने रौंद दिया। इससे एक युवक की मौके पर ही मौत हो गई है, जबकि दूसरे युवक को इलाज के लिए माधव प्रसाद त्रिपाठी चिकित्सा महाविद्यालय भेजा गया है। मृतक की पहचान मोहाना थाना क्षेत्र के ही मदारीपुर गांव निवासी राधेश्याम यादव के रूप में हुई है।

ऐसे हुआ हादसा

मंगलवार की रात 11 बजे राधेश्याम अपने एक साथी के साथ गांव की तरफ जा रहे थे। वह अभी बर्डपुर कस्बे में पहुंचे ही थे कि एक अनियंत्रित ट्रक ने उनकी बाइक को टक्कर मारते हुए आगे निकल गया। इससे वह और उनके साथी दोनों घायल हो गए। राधेश्याम की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि उनके साथी गंभीर चोटें आ गईं। बाद में स्थानीय नागरिकों की मदद से घायल को इलाज के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बर्डपुर ले जाया गया। वहां उनकी स्थिति गंभीर देख चिकित्सकों ने उन्हें मेडिकल कॉलेज सिद्धार्थनगर रेफर कर दिया। मोहाना थाना पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया है। पुलिस ट्रक व चालक की तलाश में जुटी हुई है।

घने कोहरा में वाहन चलाने से परहेज करें चालक

ठंड का समय शुरू हो गया है, घना कोहरा होने की संभावना है। ऐसे में वाहन चालक सतर्कता बरतें। वाहन चलाते समय यातायात नियमों का पालन करें, इससे यात्रा सुरक्षित रहेगी। टैक्सी में क्षमता से अधिक सवारी नहीं बैठाना चाहिए। व्यवसायिक वाहनों में ओवरलोडिंग नहीं करें। निर्धारित गति सीमा में वाहन को चलाना चाहिए। वाहन को फिट रखना जरूरी है। अनफिट वाहन से दुर्घटना होने की संभावना बनी रहती है। इसके फिटनेस पर विशेष ध्यान दें। नियत समय पर संभागीय परिवहन विभाग में वाहन की फिटनेस की जांच कराते रहें। वाहन चलाते समय एकाग्रता व संयम बनाए रखना जरूरी है।

पुलिस के आरक्षी दिलीप यादव ने दी यह जानकारी

दैनिक जागरण की ओर से वाहन चालकों को प्रशिक्षित करने के लिए चलाए जा रहे प्रशिक्षण कार्यक्रम में यह जानकारी यातायात पुलिस के आरक्षी दिलीप यादव ने मंगलवार को साड़ी तिराहा में वाहन चालकों को दी। उन्होंने कहा कि वाहन चलाते समय कम से कम बात करें, वार्ता करने से एकाग्रता भंग होती है। मोबाइल पर बात करने के दौरान वाहन को सड़क के किनारे खड़ी कर दें। ड्राइविंग करते समय एकाग्रता के साथ संयम रखना बहुत जरूरी है। चार पहिया वाहन चलाते समय सीट बेल्ट लगाना अनिवार्य है। दुर्घटना के समय सीट बेल्ट जीवन रक्षक का काम करता है।

Edited By: Pragati Chand

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट