सिद्धार्थनगर : शिवपति पीजी कालेज परिसर में मंगलवार को समाजवादी छात्रसभा के कार्यकर्ताओं ने सांकेतिक प्रदर्शन किया। जेएनयू में हुई हिसा का विरोध किया। केंद्र सरकार से विश्वविद्यालयों में शैक्षणिक माहौल बनाने की मांग की। सभी ने संविधान की रक्षा करने की शपथ ली।

समाजवादी चितक व संस्थापक समाजवादी अध्ययन केंद्र मर्णेंद्र मिश्रा मशाल ने कहा कि कालेज परिसरों में कट्टरपंथी विचारधारा तेजी से फैल रही है। छात्र भी विरोध के स्वरूप में हिसात्मक हो जा रहे है। ऐसी परिस्थितियों में गांधी, लोहिया और आंबेडकर के विचारों को युवा पीढ़ी में फैलाना सामायिक आवश्यकता है। बुद्धभूमि सिद्धार्थनगर से सबसे पहले प्रभावी प्रयास शुरू करने के लिए सबसे उपयुक्त स्थान है। छात्रनेता विष्णु उमर ने कहा कि देश में छात्र आंदोलन की दिशा भटकाने के लिए जेएनयू जैसे संस्थानों को बदनाम किया जा रहा है। उपाध्यक्ष छात्रसंघ राहुल यादव ने कहा कि छात्रों को राजनीतिक मोहरा बनाना बंद किया जाना चाहिए। रामअवतार यादव, मोहम्मद शहजाद, राकेश दुबे, शुभम त्रिपाठी, कुबेर यादव, मंजर हुसैन, इजहार खान, राहुल शर्मा, नीरज यादव, दीपक वैश्य, अजीत चौरसिया, राजन गिरी, गौतम मिश्र आदि मौजूद रहे। बढ़नी में हुए कार्यक्रम में सपा नेता मोहम्मद इब्राहिम ने जेएनयू घटना की निदा की। कहा शैक्षिक संस्थानों को राजनीति का अड्डा नहीं बनना चाहिए। स्वच्छ राजनीति होनी चाहिए। छात्र राजनीति से ही देश को प्रधानमंत्री, साहित्यकार, पत्रकार व समाज सुधारक मिले हैं।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस