सिद्धार्थनगर : पुणे (महाराष्ट्र) की दो सदस्यीय टीम ने बुधवार को इटवा थानांतर्गत ग्राम पिपरा पठान में एक व्यक्ति के यहां छापामारी की। बताया जाता है कि जिसके यहां सर्चिंग की गई, उसकी पुणे में फैक्ट्री है, और उसका जीएसटी बकाया चल रहा है।

जीएसटी विभाग के इंस्पेक्टर त्रिवेश जागड़ा व रूपेश मनोरेम की टीम दोपहर गांव पहुंची, इनके साथ स्थानीय पुलिस भी थी। टीम ने अमजद के घर को घेर लिया। घर पर परिवार का कोई सदस्य मौजूद नहीं मिला। मौके पर चाचा के परिवार के लोग मिले। चाचा के बेटे आरिफ ने बताया कि अमजद और घर वाले महाराष्ट्र में ही रहते हैं। कभी-कभी ही गांव आते हैं। पूछताछ के बाद टीम घर अंदर गई और पूरे मकान को खंगालने में जुटी रही। सायं तक कार्रवाई चलती रही। टीम ने तो कुछ नहीं बताया, हां इतना जरूर कहा कि जीएसटी बकाया के मामले में वे लोग यहां आएं।

प्रभारी निरीक्षक ज्ञानेंद्र कुमार राय ने बताया कि पुणे से टीम आई थी, जीएसटी के बकाया का कोई मामला है, इसके आगे उनको कोई जानकारी नहीं है।

गायब मिले 19 स्वास्थ्यकर्मियों से स्पष्टीकरण तलब

सिद्धार्थनगर : बुधवार को सीएमओ डा.संदीप चौधरी ने सीएचसी शोहरतगढ़ का सुबह औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण में पांच डाक्टर समेत 19 स्वास्थ्यकर्मी अनुपस्थित मिले। सभी का एक दिन का वेतन रोकने के साथ स्पष्टीकरण मांगा है।

सीएचसी पर तैनात डा. पुनीत कुमार श्रीवास्तव, डा.नमिता शुक्ला, डा.एसके मौर्य, एक्स-रे टेक्नीशियन माता प्रसाद चौधरी, लैब सहायक संतोष कुमार जायसवाल, वार्ड ब्वाय अब्दुल गफ्फार, रामकुमार, राधेश्याम मिश्र अनुपस्थित रहे। इसके अलावा संविदा पर तैनात डा. रामवेलास, डा.अर्चना कुमारी, मालजी शर्मा, एलटी संदीप कुमार, विन्द्रावती अनुपस्थित मिले। एएनएम रेनू यादव, सुनैना मिश्रा, शालिनी श्रीवास्तव, संजू कुमारी व वंदना अनुपस्थित रहीं। सीएमओ ने समस्त एएनएम का अनुपस्थिति दिवस का मानदेय रोकते हुए स्पष्टीकरण देने का निर्देश दिया। सीएमओ ने बताया कि सीएचओ अंजली दीपावली के पहले से ही अनुपस्थित चल रही हैं। उनके खिलाफ भी दंडात्मक कार्रवाई की जाएगी।

Edited By: Jagran