सिद्धार्थनगर : नगर पंचायत की बेपरवाही का खामियाजा गांधीनगर वार्ड के एचडीएफसी बैंक के सामने से लेकर खीरा मंडी तक के लोग भुगत रहे हैं। यहां जलनिकासी के लिए बना नाला लंबे समय से जाम है। सफाई न होने के चलते नाले की बदबू से लोगों को बदबू भरे माहौल से दो चार होना पड़ता है। सफाई कराने के लिए नागरिकों ने संबंधित विभाग से कई बार अर्जियां लगाई, लेकिन कोई सुनने वाला नहीं है।

डुमरियागंज कस्बे के लोगों को सुविधा हो इसके लिए पांच वर्ष पहले लाखों की लागत से डुमरियागंज-इटवा मार्ग पर खीरामंडी तक नाला बना। उम्मीद थी कि कस्बे का पानी इस नाले से होकर कस्बे से बाहर निकल जाएगा। कुछ दिनों तक नाला पानी खींचता भी रहा, लेकिन सफाई न होने के चलते नाला चोक पड़ा है। नाले में भरी गंदगी आगे नहीं निकल पा रही है जिसके चलते लोगों को दुर्गंध भरे माहौल में जीना पड़ रहा है। उक्त मार्ग पर ही प्राइवेट बस स्टैंड है और नाले की बदबू यात्रियों के लिए भी परेशानी खड़ी कर रही है। स्थानीय लोगों का कहना है कि नगर पंचायत में शिकायती पत्र देकर नाले की सफाई के लिए गुहार लगाई गई, लेकिन कोई सुनने वाला नहीं है। एसडीएम त्रिभुवन ने कहा शिकायत मिली है। सफाई के लिए नपं को निर्देशित किया गया है।

...

साहब समस्या से कब मिलेगा निजात

चार महीने से नाला जाम है। पानी आगे नहीं निकल रहा जिससे बदबू भरे माहौल से जूझना पड़ रहा है।

अफजल

...

जिम्मेदारों की उदासीनता के चलते नागरिकों की समस्या यथावत बनी हुई है और समस्या से जूझना पड़ता है। नाले की सफाई बहुत जरूरी है।

अमन

...

जाम नाले की बदबू से दुकानदारों को काफी परेशानी हो रही है। ग्राहक इधर दुकानों पर बदबू व गंदगी के चलते नहीं आ रहे।

रमेश सोनी

..

समस्या सुलझाने की जगह जिम्मेदार मौन साधे बैठे हैं। सभासद भी अनजान है, नागरिकों की समस्याओं से जैसे कुछ लेना देना ही नहीं है।

शिवकुमार

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस