सिद्धार्थनगर : अब पुलिस की स्पेशल टीम मादक पदार्थ के कारोबारियों को पकड़ेगी। यह टीम नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) के तर्ज पर काम करेगी। मिली सूचना को पुख्ता करने के बाद कार्रवाई करेगी। टीम के सदस्यों को आपरेशन संचालित करने के लिए प्रशिक्षित किया जाएगा। इन्हें विशेष अभियान पर ही लगाया जाएगा। इनका कार्यक्षेत्र पूरा जिला होगा। नेपाल बार्डर पर मादक पदार्थ पकड़े गए मामलों को ²ष्टिगत कर पहल की जा रही है।

13 सितंबर को आइजी बस्ती अनिल कुमार राय ने रेंज के पुलिस अधीक्षकों के साथ बैठक की थी। नेपाल बार्डर पर मादक पदार्थ पकड़े गए मामलों को संज्ञान में लेने के बाद इस बिदु पर चर्चा हुई। इसके लिए पुलिस कर्मियों को प्रशिक्षित कर स्पेशल टीम बनाने का निण्रय लिया गया। टीम में अनुभवी व युवा पुलिस कर्मियों को रखा जाएगा। इन्हें मादक पदार्थ की पहचान भी बताई जाएगी। टीम अपनी मुखबिरों का नेटवर्क तैयार करेगी। बार्डर पर पकड़े गए अधिकांश मामलों में एसएसबी की सहभागिता रहती है।

14 सितंबर को एसएसबी व शोहरतगढ़ थाना की संयुक्त टीम ने खुनुवा बार्डर के पास 28 ग्राम हेरोइन के साथ नेपाल निवासी एक युवक को गिरफ्तार किया था। पकड़े गए आरोपित का नाम नेपाल के जिला कपिलवस्तु के थाना बानगंगा के नगर पालिका कोपवा बानगंगा वार्ड नंबर दो निवासी नरेंद्र पांडेय है। वह मादक पदार्थ को लेकर नेपाल जा रहा था।

13 सितंबर को एसएसबी व कपिलवस्तु थाना की संयुक्त टीम ने अलीगढ़वा बार्डर के पास से 29 ग्राम हेरोइन के साथ नेपाल निवासी एक युवक को गिरफ्तार किया। आरोपित का नाम रुपनदेही जिला के सालझंडी थाना के नगर पालिका सैना मैना वार्ड नंबर दस निवासी सुखवीर शिरीस है। वह मादक पदार्थ नेपाल ले जा रहा था।

छह सितंबर को एसएसबी व ढेबरुआ थाना की संयुक्त टीम ने बढ़नी बार्डर के पास से 130 ग्राम मार्फिन के साथ नेपाल निवासी दो लोगों को गिरफ्तार किया था। पकड़े गए आरोपितों का नाम कपिलवस्तु जिला के पिपरा थाना गजहरा गांव निवासी जय नारायण चौधरी व किशन थारु है। वह मादक पदार्थ नेपाल से लेकर आ रहे थे।

एसपी डा. यशवीर सिंह ने कहा कि नेपाल सीमा को लेकर संवेदनशीलता बनी रहती है। इधर कुछ दिनों में मादक पदार्थ के मामले पकड़ में आए हैं। पकड़े गए अधिकांश आरोपित नेपाल के निवासी है। वहां के कनेक्शन को लेकर कार्ययोजना तैयार की गई है। मादक पदार्थ कारोबारियों के नेटवर्क को समाप्त किया जाएगा।

Edited By: Jagran