सिद्धार्थनगर: रविवार को कोतवाली क्षेत्र के ककरही पुल पर कोतवाली प्रभारी राम दरश आर्य व प्रभारी स्वाट टीम ने फोर्स के साथ टेंपो पर ले जा रहे तीन क्विटल चार किलो विस्फोटक के साथ दो आरोपितों को गिरफ्तार किया है।

पकड़े गए आरोपित नरकटहा निवासी सद्दाम व अजीज निवासी मिश्रौलिया खालसा थाना मिश्रोलिया के निवासी हैं। पकड़े गए विस्फोटक पदार्थ की कीमत पांच लाख रुपए आंकी गई है।

कोतवाली प्रभारी व स्वाट टीम के प्रभारी ब्रम्हानन्द गौड़, हेड कांस्टेबल गोपाल चंद, कांस्टेबल जितेंद्र कुमार यादव, कांस्टेबल गंगेश कुमार सिंह, कांस्टेबल अवनीश सिंह, कांस्टेबल मृत्युंजय कुशवाहा, कांस्टेबल पवन तिवारी, कांस्टेबल अखिलेश यादव ककरही पुल पर वाहन चेकिग कर रहे थे। उसी दौरान एक टेंपो पुल से गुजर रही थी। पुलिस टीम ने टैंपों को रुकवाया। जांच के दौरान उसमें 11 गत्तों में विस्फोटक पदार्थ पाया गया। टेंपो में बैठे दो आरोपितों को विस्फोटक पदार्थ सहित हिरासत में ले लिया। मामले की जानकारी होने पर मौके पर पहुंचे पुलिस अधीक्षक विजय ढुल ने पकड़े गए दोनों आरोपियों का बयान लिया और कोतवाली का निरीक्षण किया। कोतवाली परिसर में चेकिग के दौरान आरटीओ व पुलिस द्वारा पकड़े गए छोटे-बड़े तमाम वाहनों की अधिक संख्या देख उन्होंने प्रभारी कोतवाल को वाहनों को रिलीज कराने के लिए दिशा निर्देश दिया। निर्माणाधीन आरक्षी भवन के बारे में भी जानकारी ली। हत्या का खुलासा नहीं होने के मामले में पत्रकारों के सवाल के जवाब में एसपी ने कहा कि एक माह पहले सोनौरा ग्राम पंचायत के ग्राम प्रधान राम उग्रह के नाती बृजेश की हुई हत्या का खुलासा जल्द हो जाएगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस