सिद्धार्थनगर : कोरोना महामारी से निपटने के लिए स्वास्थ्य विभाग पूरी तरह से मुस्तैद है। प्रधानों को चाहिए की वह विभाग की मदद करते हुए गांव में जांच व टीकाकरण के लिए लोगों को प्रेरित करें। यह बातें पीएचसी अधीक्षक डा. शैलेंद्र मणि ओझा ने कही। वे सोमवार को भनवापुर ब्लाक के प्रधानों के साथ अस्पताल परिसर में बैठक कर रहे थे। बताया कि संक्रमित हुए ऐसे लोग जो होम क्वारंटाइन हैं, उनकी सहूलियत के लिए कंट्रोल रूम स्थापित हुआ है। यहां दो शिफ्टों में स्वास्थ्यकर्मी तैनात रहते हैं जो होम आइसोलेट लोगों से या उनके स्वजन से फोन के मार्फत संपर्क कर स्वस्थ होने की प्रगति जांचते हुए एक रजिस्टर मेंटेन करते हैं। आक्सीजन लेवल और अन्य जानकारी चिकित्सकों के पास आती है, जिससे यह तय होता है कि किस मरीज को कैसे परामर्श की जरूरत है। प्रधान संक्रमित को कंट्रोल रूम से संपर्क कराएं। गांव में जांच टीम पहुंच रही। है, जो भी बीमार हों उनकी जांच करवाएं। टीकाकरण के लिए लोगों को प्रेरित करने की जिम्मेदारी भी प्रधान को दी गई। 14 हुए स्वस्थ, 2748 की रिपोर्ट निगेटिव सिद्धार्थनगर: कोरोना संक्रमितों की संख्या घटती जा रही है। सोमवार को 2750 लोगों की जांच रिपोर्ट आई। दो लोग कोरोना संक्रमित मिले। 2748 की रिपोर्ट निगेटिव रही। 14 स्वस्थ हुए। एक्टिव केस 146 है। 1426 के रिपोर्ट आने का इंतजार है। अब तक 97 की मौत हो चुकी है। सीएमओ डा. संदीप चौधरी ने बताया कि डुमरियागंज व लोटन ब्लाक में सर्वाधिक एक-एक लोग कोरोना संक्रमित पाए गए हैं।

........

इन ब्लाकों में भी मिले संक्रमित

ब्लाक- संक्रमितों की संख्या

डुमरियागंज-01

लोटन-01

......

किस तारीख को कितने मिले मरीज

तिथि- कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या

13-जून-13

14-जून- 02

Edited By: Jagran