सिद्धार्थनगर : जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी के आदेश पर शिक्षकों की मनमानी भारी पड़ रही है। आदेश के बाद शिक्षक विद्यालय दूसरे विद्यालय का चार्ज नहीं छोड़ रहे हैं। एक शिक्षक पर तीन से चार विद्यालयों का प्रभार है। बीएसए का स्पष्ट आदेश है कि किसी भी शिक्षक के पास एक विद्यालय से अधिक का प्रभार नहीं रहेगा। लेकिन बर्डपुर विकास क्षेत्र में पांच शिक्षकों के पास आंतरिक विद्यालय का प्रभार है। जबकि उन विद्यालयों पर शिक्षक मौजूद हैं। इसके बावजूद यह शिक्षक विद्यालय का प्रभार नहीं दे रहे हैं। पूर्व माध्यमिक विद्यालय परसा में तैनात शिक्षक सुरेंद्र चौधरी के पास अगया खुर्द, प्राथमिक विद्यालय पिपरी में तैनात शमसुल हक के पास वजीराबाद, प्राथमिक विद्यालय मझगावां में तैनात सुरेंद्र प्रताप भाष्कर पास खैराटी, पूर्व माध्यमिक विद्यालय बर्डपुर में तैनात शैलेन्द्र मिश्र के पास जमुहवा, प्राथमिक विद्यालय अगया में तैनात केशव मणि मिश्र के पास बनगाई विद्यालय का आतंरिक प्रभार लम्बे समय से है। विभागीय निर्देश के बावजूद ये लोग विद्यालय का चार्ज नहीं दे रहे हैं। प्राथमिक विद्यालय नोनहवा में तैनात शिक्षिका रुचि त्यागी को कम्पोजिट विद्यालय महदेवा में करीब तीन वर्ष पहले सम्बद्ध किया गया था। महदेवा विद्यालय बंद होने के कारण खोलने के लिए सम्बद्ध किया गया था। जबकि इस समय नोनहवा विद्यालय में महज एक शिक्षिका तैनात हैं। महदेवा में चार शिक्षक हैं। इसके बावजूद विद्यालय छोड़ने का नाम नहीं लिया जा रहा हैं। इस बारे में बीईओ अनिल कुमार मिश्र ने बताया कि आतंरिक प्रभार वाले विद्यालयों में पूर्ण कालिक शिक्षक आ गए हैं। वेतन भी लग गया है। जल्द ही सभी का प्रभार हटा दिया जाएगा।

Edited By: Jagran