सिद्धार्थनगर: स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण योजना के तहत बेस लाइन सर्वे के आधार पर उन ग्राम पंचायतों के सचिवों को नोटिस दी गई है, जिन्होंने धन राशि निर्गत होने के बाद भी जीओ टैगिग नहीं किया है। इन सभी ग्राम पंचायतों के खातों पर रोक लगा दी गई है। पंद्रह फीसद से कम शौचालय बनवाने वाले बीस सचिवों के खिलाफ जिलाधिकारी कुणाल सिल्कू की अनुमति पर जिला पंचायत राज अधिकारी अनिल कुमार सिंह ने नोटिस देते हुए जवाब मांगा है।

डीएम के आदेश पर खेसरहा ब्लाक के बनौली, करहिया बगही, भवनापुर ब्लाक के महदेवा गजपुर, लोटन के बस्तिया, बरवा, मिठवल के सेहरी बुजुर्ग व महुआ प्रथम, जोगिया के गंगवा छपिया, भनवापुर के परैया, परसोहिया सदानंद, मधवापुर चौबे, तंदुई, इटवा के सकतपुर, भदोखर, खुनियाव के मधवापुर कालन, भटगवां, संतलियोट, सनिचरा और डुमरियागंज के धौरहरा, अगया के ग्राम पंचायत सचिवों को नोटिस दी गई है। इसमें विजय शंकर यादव, महबूब अली, मोहम्मद नियाज, शीला पटेल, कुंअर हीरा सिंह, संजय वरुण, राकेश पाठक, मजहर अब्बास रिजवी, अशोक कुमार, अवधेश यादव, मो.मुस्तकीम, आशुतोष, मुख्तार अली, हरेंद्र नाथ पांडेय, लवकुश, ओम प्रकाश, राम बेलास, संजय पटेल, सैदुल्लाह के ग्राम पंचायतों के ग्राम निधि प्रथम के खातों का संचालन स्थगित किया गया है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस