सिद्धार्थनगर : महथा रेलवे पुल के आगे बने गजहड़ा ¨रग बांध मंगलवार को दिन में कट गया। पानी गांव के सीवान में घुस गया है। ग्रामीणों ने बांध कटने की सूचना प्रशासन व ¨सचाई विभाग को दे दिया है। बांध का निर्माण ग्राम पंचायत ने कराया है।

रविवार की देर रात बानगंगा नदी का जलस्तर तेजी से बढ़ गया। पानी का दबाव कम करने के लिए विभाग ने बैराज के दो गेट खोल दिए। नदी में एकाएक पानी आ गया, वहीं बांध की दूसरी ओर भी पानी लग गया था। पानी के दबाव को ग्राम गजहड़ा के पास बने ग्राम पंचायत का ¨रग बांध नहीं सह सका और कट गया। ग्रामीणों ने बांध कटने की सूचना विभाग व प्रशासन को दी। सूचना पर अधिकारी मौके पर पहुंचे। विभागीय अधिकारियों ने बताया कि बांध का निर्माण ड्रेनेज खंड ने नहीं कराया है। इसका निर्माण ग्राम पंचायत ने कराया है। जिसकी लंबाई करीब 1.4 किमी है। ड्रेनेज खंड का बांध बेदौला-लखनापार है। वहीं बानगंगा के पानी से ग्राम अतरी के पास एलबी बांध में पानी रिसने की सूचना विभाग को मिली। विभागीय अधिकारी मौके पर पहुंच कर जांच किए और बांध को सुरक्षित बताया। सुरक्षा के मद्देनजर बांध पर खाली बोरी व ईंट का भंडारण कराना शुरू कर दिया। इस संबंध में सहायक अभियंता ड्रेनेज खंड एमके रायजादा ने कहा कि गजहड़ा बांध का निर्माण ड्रेनेज खंड ने नहीं कराया है। ग्राम पंचायत की निधि से ¨रग बांध बनाया गया है। इसके रखरखाव की जिम्मेदारी ग्राम पंचायत की है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस