श्रावस्ती : जिले में कोरोना संक्रमण ने एक और जान ले ली। हृदय रोगी अधेड़ की मेडिकल कॉलेज लखनऊ में मौत हो गई। अंतिम संस्कार के लिए शव अयोध्या ले जाते समय मृतक की कोरोना रिपोर्ट की जानकारी मिलने के बाद पुलिस ने आनन-फानन में शव को रास्ते में रोका। इसके बाद कोविड-19 प्रोटोकॉल के तहत उसका अंतिम संस्कार कराया गया। संपर्क में आए 52 लोगों का सैंपल लिया गया है। इसके अलावा आठ और लोगों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। जिले में कोरोना से हुई मौत की संख्या तीन हो गई है, जबकि कुल संक्रमितों की संख्या 166 पहुंच गई है।

सीएमओ डॉ. एपी भार्गव ने बताया कि इकौना के तेंदुआ पंडित निवासी अधेड़ 15 जून को परिवार समेत दिल्ली से घर आए थे। सांस लेने में तकलीफ होने पर उन्हें इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया। हालत नाजुक होने पर लखनऊ रेफर कर दिया था। यहां दो दिन इलाज के बाद शनिवार की रात उनकी मौत हो गई। मेडिकल कॉलेज लखनऊ से शव परिवार के लोगों को सौंप दिया गया। अंतिम संस्कार के लिए परिवार के सदस्य शव को अयोध्या ले जा रहे थे। इसी दौरान लखनऊ से मृतक के कोरोना पॉजिटिव होने की सूचना मिली। रिपोर्ट मिलने के बाद स्वास्थ्य महकमे में हड़कंप मच गया। पुलिस की मदद से शव को रास्ते में रोका गया। इसके बाद अंतिम संस्कार कराया गया। शव यात्रा में शामिल 52 लोगों का सैंपल लिया गया है। इसी प्रकार इकौना के आजादनगर वार्ड निवासी कपड़ा व्यापारी के संपर्क में आए युवक की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद उसकी मां भी संक्रमित पाई गई हैं। इकौना ब्लॉक में तैनात अवर अभियंता की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है। सौरूपुर गांव की गर्भवती महिला की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद उसे कोविड अस्पताल भंगहा में भर्ती कराया गया है। गांव को कंटेंटमेंट जोन घोषित कर दिया गया है। सोनवा थाना क्षेत्र के सोनवा स्टोर पर दो पक्षों में हुए बवाल के मामले में जेल भेजने के लिए गिरफ्तार किए गए आठ आरोपितों में से एक की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। गिलौला ब्लॉक के तुलसीपुर, दूबकला व सुबिखा गांव में कुल चार लोगों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। तीनों गांवों को कंटेंटमेंट जोन घोषित कर पीड़ितों को कोविड अस्पताल भंगहा में भर्ती कराया गया है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस