श्रावस्ती : इकौना ब्लॉक का कटरा गांव सनातन, बौद्ध व जैन धर्म का संगम है। वर्ष भर देशी-विदेशी पर्यटकों की आमद होने से यहां पर्यटन रोजगार करवट ले रहा है। मुख्य रूप से कृषि व व्यापार पर इस गांव की अर्थ व्यवस्था टिकी है। यहां के लाल शहीद कर्नल सुशील चंद्र चौधरी ने पुंछ सेक्टर में देश की रक्षा के लिए आतंकियों से लोहा लेते हुए अपने प्राणों की आहुति दी थी। कटरा गांव का अपना समृद्धशाली इतिहास है। प्राचीनकाल में देश के चार सबसे धनी महानगरों में शुमार श्रावस्ती से सटे इस गांव को श्यामता प्रसाद चौधरी ने पहचान दिलाई थी।

इनसेट====

इन पर है नाज-

स्वतंत्रता आदोलन में बढ़-चढ़कर हिस्सा लेने वाले जनार्दन प्रसाद का नाम सम्मान से लेते हैं। शहीद कर्नल सुशील चंद्र चौधरी पर गांव के लोगों को गर्व है। गाव को सर्व सुविधा संपन्न बनाने के लिए आजीवन प्रयत्‍‌नशील रहने वाले स्व. श्यामता प्रसाद चौधरी व राष्ट्रपति पुरस्कार विजेता शिक्षिका सुमन पाडेय की चर्चा कर यहां के लोग फूले नहीं समाते हैं।

इनसेट===

ये है खूबी-

कटरा गाव में प्राचीन राम-जानकी मंदिर, महावीर मंदिर, आर्य समाज मंदिर के साथ गाव की सीमा पर हवाई पट्टी, बौद्ध व जैन तीर्थ क्षेत्र स्थित है। बाजार में तब्दील हो चुके इस गाव में विदेशी पर्यटकों की चहलकदमी आम है। जो इस ग्रामीण बाजार को शहरी आभा प्रदान करता है।

इनसेट====

आधारभूत ढाचा-

7500 आबादी वाले इस गाव में दो प्राथमिक, दो उच्च प्राथमिक स्कूल स्थित हैं। गाव की सीमा पर दो इंटर कॉलेज, सुसज्जित पंचायत भवन व पुस्तकालय, तीन बैंक, पोस्ट ऑफिस, पीएचसी, पशु चिकित्सालय, विद्युत फीडर, पशु बाजार, साप्ताहिक बाजार व सहकारी समिति उपलब्ध हैं। गाव में चार सौ शौचालय बन चुके हैं। छह मजरों वाले इस गाव में आधा क्षेत्र विद्युतीकरण से युक्त है। शेष के लिए प्रयास जारी है।

इनसेट===

ये हो तो बने बात-

-अंतरराष्ट्रीय तीर्थ क्षेत्र से सटे इस गाव में शुद्ध पेयजल के लिए पाइप लाइन की जरूरत है।

-जलनिकासी व स्वच्छता का अभाव लोगों को अखरता है।

-विनियमित क्षेत्र घोषित इस गाव में अनियोजित निर्माण व सड़क पर अतिक्रमण है।

-गांव में विश्रामालय, सड़क, सोलर स्ट्रीट लाइट, सड़क किनारे चौड़ी नालिया व तोरणद्वार की जरूरत है।

इनसेट===

बोले ग्राम प्रधान-

चित्र-10एसआरटी03-

उपलब्ध संसाधनों से बेहतर नागरिक सुविधाएं उपलब्ध करवाने का प्रयास है। सफाई, रोशनी व सुंदरीकरण के लिए विशेष बजट व संसाधनों की आवश्यकता है। गाव के गौरव शहीद कर्नल सुशील चौधरी के नाम पर गाव का नाम सुशील नगर कटरा करने, शहीद स्मारक, तोरणद्वार का प्रस्ताव शासन को भेजा गया है।

-केतकी चौधरी, ग्राम प्रधान, कटरा।

------ गाव के अंतरराष्ट्रीय महत्व के मद्देनजर सड़क किनारे पौधरोपण, तालाबों का सुंदरीकरण, स्वच्छता के लिए जगह-जगह कूड़ेदान, गरीबों को आवास व गलियों की इंटरलॉकिंग के साथ अन्य नागरिक सुविधाएं उपलब्ध कराया गया। गाव में नियोजित विकास की जरूरत है।

-मधु जायसवाल, पूर्व ग्राम प्रधान, कटरा।

Posted By: Jagran