शामली, जेएनएन। गढ़ीपुख्ता क्षेत्र के गढ़ी अब्दुल्ला खां में बाल्मीकि बस्ती में लगभग एक महीने से दो-दो फीट पानी भरा हुआ है। मोहल्लेवासियों का घर से निकलना और घर जाना दूभर हो गया है। जब भी बरसात होती है इस बस्ती में बरसात का पानी लबालब भर जाता है। लोगों को अपने स्तर से किराए पर लाकर पम्पिंग सेट से पानी निकालना पड़ रहा है। जनप्रतिनिधि इस ओर ध्यान नहीं दे रहे हैं।

बरसात के पानी की निकासी के लिए ग्राम गढ़ी अब्दुल्लाखां से ग्राम जाफरपुर की ओर एक नाला जा रहा है। यह साफ-सफाई न होने से बंद था, पिछले दिनों जब इसे ग्राम प्रधान द्वारा खुलवाने की कोशिश की गई तो पड़ोस के गांव जाफरपुर के प्रधान द्वारा उस पर आपत्ति जताई गई। जिससे बरसात के पानी की निकासी नहीं हो पा रही है। यही कारण है कि थोड़ी सी बारिश होते ही बाल्मीकि बस्ती में कई फुट पानी भर जाता है। मोहल्लेवासी सुनील, विक्की, नीटू, सुधीर, राजेश, पप्पन, चरण सिंह, रामू, बबलू, दीपक, सागर, कुलदीप, राधा, राजेश, आदि का कहना था कि पानी की निकासी के लिए उन्होनें 300 रुपये प्रति घंटा के हिसाब से पम्पिंग सेट लगा रखा है जो कि शनिवार से लगा हुआ है। अभी तक आधे से आधा पानी भी नहीं निकला है। यह पंप अपने निजी पैसों से लगा रखा है। लॉकडाउन की वजह से उनके पास कोई काम भी नहीं है, बड़ी मुश्किल से पैसे इकट्ठे करके पंपिग सेट से यह पानी निकाल रहे हैं।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस