शामली, जागरण टीम। शामली नशीली दवाओं का हब बनकर सामने आ रहा है। हरियाणा, पंजाब में भी शामली से बड़े पैमाने पर नशीली दवाओं की तस्करी हो रही है। कुछ बड़े कारोबारी हरियाणा में बनी नशीली दवाएं मंगाते भी हैं, जिन्हें जिलेभर में युवाओं को बेचा जाता है। पंजाब पुलिस कई बार शामली में दबिश दे चुकी है। एक मेडिकल स्टोर संचालक सहित दो लोगों को पकड़ा भी गया था। शामली-हरियाणा सीमा पर लाखों रुपये की नशीली दवाएं पुलिस ने बरामद कर तस्करों को गिरफ्तार किया, इसके बावजूद नशीली दवाओं की तस्करी थम रही नही है।

जनपद शामली की सीमा हरियाणा प्रदेश से सटी हुई है। कुछ ड्रग्स माफिया ने शामली जनपद के माफिया से मिलीभगत कर रखी है। यह दोनों सिडिकेट शामली के साथ अन्य क्षेत्रों में भी बड़े पैमाने पर नशीली दवा-इंजेक्शन का धंधा चला रहे हैं। शामली से चलाए जा रहे इस अवैध धंधे का तब पता चला, जब पंजाब पुलिस ने शामली निवासी एक युवक को दस माह पहले लाखों रुपये की नशीली गोलियों के साथ दबोचा था। वह इन गोलियों को शामली के दवा व्यापारी से लेकर पंजाब में बेचने को गया था। इसके बाद पंजाब पुलिस ने कई बार शामली में दबिश दी, लेकिन इस धंधे से जुड़ा माफिया पकड़ा नहीं जा सका। झिझाना में वर्ष 2019 में तीन युवकों के शव मिले थे। पास में ही नशीले इंजेक्शन के पड़े मिले थे। इतना बड़ा हादसा होने के बावजूद पुलिस ने कोई ठोस कार्रवाई नहीं की, बल्कि मामले की फाइल को बंद कर दिया। नशा करने आते हैं शामली

चूंकि शामली और हरियाणा की सीमा थाना झिझाना व कैराना क्षेत्र में यमुना पर सटी है। हरियाणा के युवक शामली के झिझाना व कैराना क्षेत्रों में नशा करने के लिए आते रहते हैं। झिझाना में तीन युवकों की मौत होना इसी का परिणाम है। - 24 मई वर्ष 2020 को झिझाना पुलिस ने हरियाणा सीमा पर कार में दो लोगों को छह लाख की नशीली दवाओं के साथ पकड़ा।

- 4 सितंबर वर्ष 2020 को कैराना में प्रतिबंधित गोलियों के साथ एक युवक को पकड़ा।

-7 सितंबर वर्ष 2020 को कैराना के गांव भूरा में 110 नशीली गोली के साथ एक युवक को पकड़ा।

- 9 नवंबर वर्ष 2020 को कैराना पुलिस ने दो लोगों को कई लाख की गोलियों के साथ गिरफ्तार किया।

- झिझाना पुलिस भी कई लोगों को नशीली दवाओं के साथ पकड़ चुकी है। इन्होंने कहा

नशीले पदार्थो की बरामदगी व इस धंधे से जुड़े माफिया की गिरफ्तारी के लिए आदेश दिए गए हैं। पुलिस कई लोगों को गिरफ्तार भी कर चुकी है।

- सुकीर्ति माधव, एसपी, शामली।