शामली, जागरण टीम। जनपद के शामली, कैराना व थानाभवन में आयोजित ऐच्छिक ब्यूरो की बैठक में रविवार को आठ दंपती में सुलक कराई गई। अन्य दंपती को सुनवाई के लिए आगामी तिथि दी गई है।

शामली नगर पालिका सभागार में आयोजित बैठक में सदस्यों ने 13 मामलों में सुनवाई की। इस दौरान काफी मशक्कत के बाद एक दंपती में समझौता कराया जा सका। उधर, थानाभवन थाना परिसर में भवन क्षेत्राधिकारी अमित सक्सेना के निर्देशन में ऐच्छिक ब्यूरो (परिवार समाधान केंद्र) का आयोजन किया गया। ब्यूरो ने विघटित परिवारों के समाधान के लिए 21 परिवारों को बुलाया गया। जिसमें समाजसेवियों की टीम ने परिवारों में समाधान का प्रयास किया। समाज सेवियों की टीम के प्रयास के बाद पांच दंपती ने एक दूसरे के साथ दोबारा नए जीवन की शुरूआत करने का निर्णय लिया। दंपती ने एक दूसरे को माला पहनाकर व मिठाई खिलाकर नए जीवन की शुरुआत की। इस दौरान दीवान रमा देवी, मा. रमेश चंद सैनी, डा. तोहिद हसन, फरजंद अली, हरीश प्रजापति आदि मौजूद रहे।

संवाद सूत्र, कैराना : रविवार को नगर पालिका में ऐच्छिक ब्यूरो (परिवार समाधान केंद्र) की बैठक का आयोजन किया गया। इस दौरान कैराना, कांधला और झिझाना थानों से संबंधित दंपती विवादों पर सुनवाई की। कुल 13 फाइलों पर सुनवाई के दौरान काफी जद्दोजहद के बाद दो दंपती विवादों में आपसी समझौता करा दिया गया। अन्य मामलों में अगले सप्ताह की तिथि लगा दी गई। इस दौरान डा. नसरीन खान, जीवन ज्योति अरोरा, मोहन लाल आर्य, रवि वालिया, महिला कांस्टेबल इति चौधरी, रेणु पोसवाल व कांस्टेबल सोनू पंवार मौजूद रहे।

Edited By: Jagran