संवाद सूत्र झिझाना(शामली): शनिवार दोपहर मेरठ-करनाल हाईवे पर गांव अहमदगढ़ निवासी 75 वर्षीय वृद्ध की सड़क पाकर करते समय लोडिड ट्रक से कुचलकर मौत हो गई। ग्रामीणों ने ट्रक चालक से मारपीट की और ट्रक में आग लगा दी। हाईवे पर जाम लगा दिया। पुलिस ने चालक को बचाया। एसडीएम व सीओ ने मौके पर पहुंच कर मामला संभाला और पांच लाख का मुआवजा देने का आश्वासन दिया। इसके बाद जाम खोल दिया गया।

शनिवार की दोपहर थाना झिझाना के गांव अहमदगढ़ निवासी दीपचंद (75) पुत्र मांगेराम कश्यप अपने घर के सामने किसी काम से मेरठ-करनाल हाईवे की सड़क पार कर रहे थे। इसी दौरान हाईवे पर गहरे गड्ढे होने के कारण करनाल की तरफ से गलत दिशा में आ रहे लोडिड ट्रक ने दीपचंद को चपेट में ले लिया। उनकी मौत हो गई। दीपचंद का घर घटनास्थल के पास ही था। इसलिए मिनटों में मौके पर ग्रामीणों की भीड़ लग गई। लोगों ने चालक को ट्रक से नीचे खींच लिया। अहमदगढ़ पुलिस चौकी से चार सिपाही मौके पर पहुंचे। उन्होंने चालक को भीड़ से बचाया। भीड़ ने ट्रक में आग लगा दी। एसडीएम डॉक्टर अमितपाल व सीओ राजेश तिवारी मौके पर पहुंचे। ग्रामीण मुआवजे व सड़क के बीच बनाए गए कट बंद कराने की मांग पर करीब तीन घंटे तक अड़े रहे। एसडीएम ने पांच लाख का शासन से मुआवजा दिलाने का आश्वासन दिया। इसके बाद करीब पांच बजे हाईवे जाम से मुक्त हो पाया। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पुलिस ने बताया कि हादसे का मुकदमा दर्ज किया जा रहा है। उधर, लोगों का आरोप था कि थाना प्रभारी सूचना के बावजूद अधिकारियों के बाद मौके पर आए।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप