शामली, जेएनएन। कैराना से समाजवादी पार्टी के विधायक नाहिद हसन को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। वह गैंगस्टर एक्ट के मुकदमे में वांछित चल रहे थे। उन्हें कोर्ट में पेश किया। जहां से न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेज दिया गया। नाहिद हसन विधानसभा सीट से गठबंधन से सपा के प्रत्याशी भी हैं।

नाहिद हसन व उनकी मां पूर्व सांसद तबस्सुम हसन सहित 40 लोगों के विरुद्ध छह फरवरी 2021 को कैराना कोतवाली में गैंगस्टर एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया गया था। तभी से नाहिद हसन वांछित चल रहे थे। वह पुलिस की गिरफ्तारी के डर से कैराना में अपने आलदरम्यान स्थित आवास भी नहीं पहुंच पा रहे थे। शनिवार को उन्हें कैराना बाईपास से पुलिस ने गिरफ्तार किए जाने का दावा किया। गिरफ्तारी के बाद पुलिस उन्हें सीधे न्यायालय लेकर पहुंची। अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश (त्वरित न्यायालय) में पेश किया गया। सुरक्षा के ²ष्टिगत न्यायालय परिसर को छावनी में तब्दील कर दिया गया था। न्यायालय ने विधायक नाहिद हसन को न्यायिक अभिरक्षा में भेज दिया। इसके बाद अधिकारी पुलिस एवं पीएसी के जवानों के घेरे में सरकारी गाड़ी से जेल के लिए लेकर रवाना हो गए।

विधानसभा चुनाव को लेकर चौसाना पुलिस अलर्ट

चौसाना: विधानसभा चुनाव को लेकर चौसाना पुलिस अलर्ट है। क्षेत्र मे शांति व्यवस्था कायम रखने के लिए पुलिस ने गश्त बढ़ा दी है। आचार संहिता लागू होने के बाद शस्त्र लाइसेंस जमा कराए जाने की कार्यवाही शुरू कर दी गयी थी। अभी तक 95 शस्त्र लाइसेंस जमा किए जां चुके है। चौसाना पुलिस विधानसभा चुनाव के मद्देनजर सुरक्षा व्यवस्था कायम रखने के लिए सतर्क है । चौसाना क्षेत्र में कुल 151 शस्त्र लाइसेंसधारी है। आचार संहिता लागू होने के साथ ही शस्त्र लाइसेंस धारकों को शस्त्र जमा कराने के लिए कहा गया है। अभी तक 95 शस्त्र लाइसेंस चौकी में जमा हो चुके हैं जबकि 56 शस्त्र लाइसेंस जमा होने शेष रह गए है। चौसाना चौकी प्रभारी समयपाल अत्री ने बताया कि विधानसभा चुनाव को दृष्टिगत रखते हुए सभी लाइसेंस धारियों को लाइसेंस जमा कराने की सूचना दी गई है। शेष लाइसेंस धारियों से भी जल्द ही शस्त्र लाइसेंस को जमा कराया जाएगा। क्षेत्र में कानून व्यवस्था को बिगाड़ने वालों को किसी भी सूरत में बख्शा नहीं जाएगा।

Edited By: Jagran