जागरण संवाददाता, शामली: जिलाधिकारी जसजीत कौर ने डेंगू के बढ़ते प्रकोप के चलते सावधानी बरतने की सलाह देते हुए बचाव के लिए गाइडलाइन पर अमल करने की अपील की है। डीएम ने स्पष्ट किया कि बुखार के लक्षण दिखते ही तुरंत चिकित्सकों से संपर्क करें। इसके साथ ही उन्होंने कोविड गाइडलाइन का पालन करने पर भी जोर दिया है।

जिलाधिकारी जसजीत कौर ने कहा कि वर्तमान में डेंगू के मरीजों की सूचनाएं विभिन्न जनपदों से मिल रही हैं। कुछ सरल उपाय अपनाकर डेंगू से बचा जा सकता हैं। इसके लिए सप्ताह में एक बार कूलर, फूलदान एवं पशु व पक्षियों के पानी के बर्तन इत्यादि को खाली करें। रगड़कर साफ करें एवं सुखाकर ही पुन: पानी भरें। वहीं पुराना टायर, डिस्पोजेबल कप, नारियल के खोल इत्यादि में पानी जमा न होने दें। पानी के सभी बर्तन, टंकी इत्यादि को पूरी तरह ढककर रखें। मच्छर द्वारा काटे जाने से बचने के लिए ऐसे कपडे़ पहने जो बदन को पूरी तरह ढकें। इसके साथ ही यदि तेज बुखार के साथ सिरदर्द, आंखों के पीछे दर्द, जोड़ों और मांसपेशियों में दर्द, त्वचा पर चकत्ते और थकान हो तो तुरंत अपने नजदीकी अस्पताल पर जाएं। डीएम ने अपील की कि बुखार से पीड़ित व्यक्ति को नजदीकी सामुदायिक या प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर ले जाकर तत्काल चिकित्सक से उपचार कराएं। उन्होंने शारीरिक दूरी व मास्क का प्रयोग भी अनिवार्य तौर पर करने की अपील की। कहा कि भले ही केस न हों, लेकिन कोरोना का खतरा नहीं टला है। इसलिए निरंतर कोविड गाइडलाइन का पालन किया जाए।

Edited By: Jagran